गुना-शिवपुरी लोकसभा चुनाव रोचक परिणाम- 2 रिकॉर्ड बने पिता-पुत्र की जोड़ी से, एक अद्भुत

Bhopal Samachar

शिवपुरी। गुना-शिवपुरी संसदीय सीट के चुनाव परिणाम आ चुके है भाजपा प्रत्याशी ज्योतिरादित्य सिंधिया की जीत की अंतर का पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है।  इससे पूर्व उन्होंने सबसे बड़ी जीत पिता माधवराव सिंधिया की विमान हादसे में मृत्यु के उपरांत वर्ष 2002 में गुना- शिवपुरी संसदीय सीट पर हुए उपचुनाव में हासिल की थी। उक्त चुनाव में सांसद सिंधिया ने 4 लाख 6 हजार 568 मतों से जीत हासिल की थी। तत्समय सिंधिया ने भाजपा प्रत्याशी राव देशराज सिंह यादव को हराकर यह जीत हासिल की थी, जो वर्तमान कांग्रेस प्रत्याशी राव यादवेंद्र सिंह यादव के पिता थे।

रोचक परिणाम
वर्ष 2002 में हुए लोकसभा के उपचुनाव में ज्योतिरादित्य सिंधिया (कांग्रेस) 535728 मत और देशराज यादव (भाजपा) 129160 मत मिले थे। इस चुनाव में सिंधिया ने 4 लाख 6 हजार 568 मतों से जीत हासिल की थी,लेकिन इस चुनाव में सिंधिया 540929 वोट मिले है। यहां ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी जीत का रिकॉर्ड ब्रेक किया है साथ में इस रिकॉर्ड में यह देखने वाली बात यह है कि सिंधिया को 2002 के चुनाव में 535728 कुल मत प्राप्त हुए थे लेकिन इस परिणाम में 540929 वोटो जीते है,कुल मिलाकर 2002 के चुनाव के कुल वोट से इस बार के जीत के वोट के अनुपात में 5,201 वोट अधिक मिले है। यह एक नही 02 रिकॉर्ड बने है कि यह जीत अब तक सबसे बड़ी जीत है और अब तक यह सबसे बड़ी जीत इतनी बड़ी है कि अभी तक के 6 बार के चुनाव में सबसे अधिक मिले वोटो की कुल संख्या से अधिक जीत के वोटों का अंतर 5201 वोट अधिक हैं।

किस चुनाव में कितने मतों से जीते-हारे

वर्ष-2002: ज्योतिरादित्य
सिंधिया (कांग्रेस) 535728 मत और देशराज यादव (भाजपा) 129160 मत मिले।
वर्ष-2004: ज्योतिरादित्य
सिंधिया (कांग्रेस) 330954 मत मिले, हरिवल्लभ शुक्ला (भाजपा) 250594 मत मिले।
वर्ष 2009: ज्योतिरादित्य
सिंधिया (कांग्रेस) 413297 मत मिले, नरोत्तम मिश्रा (भाजपा) 163560 मत मिले।
वर्ष 2014: ज्योतिरादित्य
सिंधिया (कांग्रेस) 517036 मत मिले, जयभान सिंह पवैया (भाजपा) 396244 मत मिले।
वर्ष 2019: केपी यादव
(भाजपा) 614049 मिले, ज्योतिरादित्य सिंधिया (कांग्रेस) 488500 मत मिले।
G-W2F7VGPV5M