मप्र बोर्ड परीक्षा - 12वीं क्लास के अंग्रेजी पेपर से 278 स्टूडेंट रण छोड भागे, पढिए खबर - SHIVPURI NEWS

Bhopal Samachar
शिवपुरी। बोर्ड परीक्षाओं के क्रम में गुरुवार को जिले के 68 में से 67 परीक्षा केन्द्रों पर हायर सेकेण्डरी के महत्वपूर्ण अंग्रेजी विषय की परीक्षा आयोजित की गई। इस दौरान सभी केंद्रों पर विशेष सतर्कता रखी गई थी। नतीजे में कोई नकल प्रकरण सामने नहीं आया और परीक्षा व्यवस्थित व शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुई। इस परीक्षा में कुल 13 हजार 143 परीक्षार्थी नामांकित थे जिनमें से 12 हजार 865 परीक्षा देने पहुंचे जबकि 278 परीक्षार्थी गैरहाजिर रहे।

सबसे ज्यादा 66 परीक्षार्थी करैरा में जबकि सबके कम 8 परीक्षार्थी बदरवास विकासखंड के केन्द्रों पर गैरहाजिर रहे। वहीं शिवपुरी में 58, पिछोर में 54, खनियाधाना में 19, नरवर में 23, पोहरी में 23, कोलारस में 27 परीक्षार्थी गैरहाजिर रहे। शुक्रवार को 10 वी के संस्कृत विषय का प्रश्न पत्र 68 केंद्रों पर आयोजित होगा।

मायापुर से मगरौनी तक डीईओ, डीपीसी व क्रीडा अधिकारी ने किया निरीक्षण

अंग्रेजी विषय के प्रश्न पत्र को लेकर सुबह ही शिक्षा विभाग के उड़नदस्ते गोपनीय रूप से जिलेभर के परीक्षा केंद्रों के लिए रवाना हो गए। जिला शिक्षा अधिकारी समर सिंह राठौड़ ने आदर्श जीवन डीएलएड कॉलेज आमोलपठा, सिकंदरपुर नरवर, अशासकीय सिद्धि विनायक कॉलेज नारायणपुर नरवर, कन्या उमावि नरवर, उत्कृष्ट उमावि नरवर सहित एकीकृत उमावि मगरौनी केन्द्र का निरीक्षण किया तो वहीं डीपीसी विवेक श्रीवास्तव ने उमावि सिरसौद करैरा, उत्कृष्ट व मॉडल उमावि पिछोर, सरस्वती शिशु मंदिर पिछोर से लेकर उमावि मायापुर केन्द्र का निरीक्षण किया। जबकि जिला क्रीड़ा अधिकारी चंद्रशेखर बेमटे की टीम ने उमावि इंदार, उमावि खतौरा, बालक उमावि सीएम राइज बदरवास सहित अशासकीय एक्सीलेंस स्कूल ऑफ स्टडी केन्द्र का निरीक्षण किया। सभी केंद्रों पर परीक्षा व्यवस्थित व शांतिपूर्ण संपन्न होते मिली।

ट्रेकिंग सिस्टम से ओटी आउट पर लगी लगाम

इस बार शिक्षा विभाग ने साइबर ट्रेकिंग का सहारा लेते हुए मोबाइल ऐप के जरिए केन्द्रों पर तैनात कलेक्टर प्रतिनिधि के द्वारा पुलिस थाने से परीक्षा केन्द्र तक प्रश्न पत्र पहुंचाने की प्रक्रिया को ऑनलाइन ट्रैक करने की व्यवस्था की है। साथ ही प्रत्येक कक्ष में प्रश्न पत्रों के पृथक-पृथक बंडल व प्रत्येक प्रश्न पत्र का विशेष आइडेंटिफिकेशन नंबर सहित क्यूआर कोड भी अंकित किया गया है और इस पूरी प्रक्रिया का सार्थक परिणाम भी अब तक के प्रश्नपत्रों में साफ नजर आया है। परीक्षा से ऐन पहले मोबाइल पर ओटी आउट होने का चलन इस बार थम गया है। ऐसे में साइबर ट्रेकिंग का सिस्टम कारगर साबित हुआ है।

केंद्र वाले स्कूलों के प्राचार्यों की जवाबदेही तय

जिला शिक्षा अधिकारी समर सिंह राठौड़ ने जिले के सभी परीक्षा केंद्रों वाले स्कूलों व संस्थाओं के प्राचार्यों की जवाबदेही तय करते हुए उन्हें निर्देशित किया है कि परीक्षा दिवस वाले दिन सुबह 6 बजे केन्द्र को खुलवाने व वहां साफ-सफाई, पेयजल व्यवस्था सहित अन्य व्यवस्था सुनिश्चित करें। यदि किसी भी केंद्र पर अव्यवस्था या समय पर न खुलने की शिकायत पाई गई तो प्रतिवेदन के आधार पर संबंधित संस्था के प्राचार्य पर कार्यवाही की जाएगी।

इनका कहना है
गुरूवार को हायर सेकेण्डरी के अंग्रेजी विषय की परीक्षा में 12 हजार 865 परीक्षार्थी उपस्थित रहे। सभी केंद्रों पर परीक्षा शांतिपूर्ण संपन्न हुई। मेरे व अन्य अधिकारियों के पैनलों ने अंचल के विभिन्न केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण भी किया। किसी भी केंद्र पर कोई नकल प्रकरण सामने नहीं आया है।
समर सिंह राठौड़,जिला शिक्षा अधिकारी, शिवपुरी
G-W2F7VGPV5M