वायरल वीडियो में राज्यमंत्री सुरेश राठखेड़ा के समधि की ब्राह्मण,वैश्य और ठाकुरों को गालियां,मंत्री जी को महंगी पड़ेगी- Shivpuri News

एक्सरे ललित मुदगल @ शिवपुरी।
पोहरी विधानसभा के बैराड़ कस्बे में बीते रोज एक वीडियो वायरल हुआ,यह वीडियो चर्चा का विषय बना। जगह थी बैराड़ थाना,कार्यक्रम था बैराड थाने में स्मैक को लेकर था कि बैराड में स्मैक नही बिकनी चाहिए। इस कार्यक्रम में पोहरी विधायक और राज्यमंत्री सुरेश राठखेडा भाजपा के संगठन के क्षेत्रीय पदाधिकारी और बैराड के सम्मानीय गण।

जिस समय यह बैठक चल रही थी उसी समय मंत्री महोदय के समधि बाबूलाल गोबरा दारू के नशे में आए और गालियां बकने लगे। कार्यक्रम बैराड़ थाने पर था तमाम पुलिस थी लेकिन समधी साहब होने के कारण पुलिस भी नहीं रोक सकी।

स्मैक की रोकथाम के लिए बैठक

पीडब्ल्यूडी राज्यमंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक सुरेश धाकड़ ने बताया कि लगातार बैराड़ में स्मैक के चलन के बढ़ने की शिकायत मिल रही थी। इसकी रोकथाम के लिए आज बैराड़ पुलिस और बैराड़ नगर के प्रबुद्धजन के साथ मिलकर एक बैठक का आयोजन किया गया था। इस बैठक में स्मैक पर लगाम लगाने के लिए चर्चा की गई थी। थाना प्रभारी ने उन्हें आश्वस्त किया है कि 10 दिनों के भीतर बैराड़ नगर से स्मैक के नशे के कारोबारियों को खोज कर जेल भेज देंगे। इसके अतिरिक्त पीने वालों पर भी कार्रवाई करेंगे।

समधी साहब के विषय में यह कहां

पीडब्ल्यूडी राज्य मंत्री सुरेश धाकड़ का कहना है कि नशा मुक्ति को लेकर बैराड़ थाने में आयोजित बैठक में किसी भी प्रकार का कोई हंगामा नहीं हुआ है। उनके निकलने के बाद किसी व्यक्ति के द्वारा शराब के नशे में हंगामे की सूचना उन्हें प्राप्त हुई है। चूंकि उक्त व्यक्ति धाकड़ समाज से है इसलिए लोग उनका रिश्तेदार बता रहे हैं।

इस पूरे वाक्य में यह सब दिखाई दे रहा था,लेकिन गोबरा साहब ने पूरे कार्यक्रम का क्यों गुड़ गोबर एक कर दिया,इसको समझने के लिए इस कार्यक्रम में कौन कौन उपस्थित था और समधी साहब ने क्यों गालिया सिर्फ ब्राह्मण,वैश्य और ठाकुरों को दी यह सब सवाल हवा में तैर रहे है। कोशिश करते है समझने की।

यह उपस्थित थे इस कार्यक्रम में भाजपा नेता रामबाबू मंगल,राजकुमार शर्मा, कमलेश तिवारी भी मौजूद थे। अब समझे कौन है बाबूलाल गोबरा ,बाबूलाल गोबरा राज्यमंत्री सुरेश धाकड़ के छोटे भाई मस्तराम धाकड़ के ससुर है और यह जिला पंचायत सदस्य के रूप में बैराड़ में जिला पंचायत वार्ड क्रमांक 1 से चुनाव लडे थे और समधी साहब को गोविंद शर्मा ने हरा दिया था।

पोहरी की राजनीति जातिवाद के श्राप से श्रापित

पोहरी की राजनीति में विकास बहुत छोटा मुद्दा है यह जातिवाद सबसे बड़ा मुद्दा है। यहां धाकड समुदाय और ब्राह्मण समुदाय आमने सामने रहता है। बीते रोज के बैठक स्थल पर भाजपा नेता रामबाबू मंगल ओर कमलेश तिवारी उपस्थित थे रामबाबू मंगल और कमलेश तिवारी नरेन्द्र सिंह तोमर गुट के माने जाते है। वह हमेशा पोहरी के विकास कार्य का श्रेय अपने नेता को देते है।

यह दो समीकरण बने समधी साहब के ब्राह्मण,ठाकुर ओर वैश्यो को खुले आम गाली देने से। विधायक एक ऐसा पद होता है वह सबका होता है। किसी एक जाति विशेष का नहीं होता। विधायक अपने विधानसभा की समस्या के लिए लड़ता है और विकास की ओर अग्रसर करता है। लेकिन पोहरी में इन दिनो मंत्री जी का परिवार और रिश्तेदार हावी है। उनके हिसाब से पोहरी में काम चलता है उसके अतिरिक्त पत्ता भी नहीं हिलता है। सार्वजनिक रूप से ऐसे किसी भी समाज को गाली देना और तत्काल कार्यवाही नहीं होना भी यहां मंत्री महोदय की ताकत का वीटो लगा था। गुट की राजनीति भी निकल कर सामने आई है।

यह गालिया पड़ेगी मंत्री जी को भारी,तलवार लटकी है

भोपाल के सूत्रो की माने तो मंत्री सुरेश राठखेडा सीएम शिवराज की पुअर वर्क की लिस्ट में है इसलिए कभी भी मंत्री पद जा सकता है। वही कुछ दिनों पहले भी एक वीडियो वायरल हुई थी उसमें एक स्वर्ण जाति को बदबू वाले शब्द कहे जा रहे थे जो पूरे देश में भाजपा को परेशान कर सकते थे। लेकिन यह वीडियो तत्काल हटा दिया गया था लेकिन मंत्री महोदय के चाहने वालो ने यह वीडियो वहां पहुंचा दिया जहां इसको पहुंचना चाहिए था। अब यह वीडियो तो सोशल पर दौड़ रहा है,भाजपा के सभी नेताओ के पास पहुंच गया है। यह गाली मंत्री महोदय को आगे भारी पडेगी। अनुमान लगाया जा रहा है कि विधानसभा चुनाव से पूर्व यह वीडियो फिर वायरल होंगे और कांग्रेस इसको मुद्दा भी बना सकती है।

अंत में क्या

वीडियो वायरल होते ही क्षत्रिय महासभा के पदाधिकारी अध्यक्ष लोकेंद्र सिंह तोमर पुत्र भीकम सिंह तोमर निवासी गोवर्धन अपने साथियों के साथ बैराड थाने जा पहुंचे। जहां पुलिस ने इस मामले में आरोपी जगदीश धाकड निवासी गोवरा के खिलाफ धारा 294,505 के तहत मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया है।