Shivpuri News- गोवर्धन थाना प्रभारी ने दी ग्रामीणों का धमकी,कहा मेरे हिसाब से बयान देना

शिवपुरी। शिवपुरी जिले के गोवर्धन थाना पुलिस ने ढेवला गांव से मुरैना के एक शिकारी के साथ साथ चार आदिवासियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। गोवर्धन थाना पुलिस ने पकड़े गए पांचों आरोपियों को सरपंच के घर लूट की वारदात को अंजाम देने की योजना बनाने पर पकड़ने की बात कही है।

इस कांड में गोवर्धन थाना प्रभारी उलझते नजर आ रहे है। आज पकडे गए 4 आदिवासी डकैतो में एक डकैत नाबालिग निकला और उसे शिवपुरी जेल से निकालकर किशोर न्यायालय में पेश किया गया। जहां से उसे बाल सुधार गृह गुना भेजने के आदेश किए गए। इस मामले की जांच एसडीओपी पोहरी कर रहे है। उधर आज गोवर्धन थाना प्रभारी ढेवला गांव के ग्रामीणों की धमकी देकर आए है कि बयान मेरे हिसाब से देना,नहीं तो जेल दूंगा।

इसमें मुख्य आरोपी बुद्ध सिंह पुत्र पूरन सिंह मोगिया 30 निवासी ग्राम मरा थाना पहाड़गढ़ जिला मुरैना, अनिल पुत्र मनीराम आदिवासी 22 प्रहलाद पुत्र स्व: डोमू आदिवासी 37,बलराम उर्फ भूरा पुत्र सुरेश आदिवासी और नाबालिग आदिवासी को गिरफ्तार कर जेल र्भेज दिया था। नाबालिग को शिवपुरी जेल भेजने पर शिकायत की गई। जिसकी जांच पोहरी एसडीओ कर रहे है। एसडीओपी की जांच पर ही पकड़े गए नाबालिग किशोर को नाबालिग किशोर न्यायालय में पेश किया गया था।

गांव ढेवला के पूर्व सरपंच रवि यादव ने बताया कि पूर्व सरपंच धाकड साहब के यहां डकैती डालने के योजना बनाने गए केस में शिकायत के बाद एसडीओपी पोहरी जांच कर रहे है। इसी क्रम में गोवर्धन थाना प्रभारी आज ढेवला गांव पहुंचे और ग्रामीणों को धमकी देकर आए है कि मेरे हिसाब से बयान नहीं दिए तो जेल भेज दूंगा कहना कि हमारे यहां यह आदिवासी चोरी करने आए थे।

इस पूरे काण्ड में लगातार सवाल उठ रहे है पकडा गया डकैत नाबालिग निकल आया,इसलिए उसे आज किशोर न्यायालय पेश किया गया। अब जांच गोवर्धन थाना प्रभारी रघुवीर सिह धाकड़ की चल रही है तो उन्हें सबसे पहले थाने से हटाना चाहिए नहीं तो यह जांच प्रभावित कर सकते है और आज ऐसा की कुछ हुआ है वह ग्रामीणों को बयान को लेकर डरा धमका रहे है। अब देखना यह है कि पुलिस अधीक्षक इस मामले में क्या करते है।