शिवपुरी मेडिकल कॉलेज, दाए हाथ का ऑपरेशन होना था और बाए हाथ के ऑपरेशन की तैयारी कर दी- Shivpuri News

शिवपुरी।
अपनी मेडिकल को बदनाम करने वाली एक और खबर आ रही है कि कॉलेज में अपना हाथ का इलाज कराने गई महिला के साथ डॉक्टरों ने लापरवाही कर दी,अगर महिला के परिजन जागरूक नही होते ऑपरेशन के समय कुछ भी हो सकता था। महिला के पैरों ने बताया कि दाए हाथ का ऑपरेशन होना था और डॉक्टरों ने बाएं हाथ के ऑपरेशन की तैयारी शुरू कर दी थी।

जानकारी के अनुसार मरीज रचना शाक्य ने बताया कि 28 दिसंबर 2022 को डाॅ. पंकज शर्मा को ओपीडी में अपने दायें हाथ का इलाज कराने मेडिकल कॉलेज शिवपुरी में गये जिसमें डॉ. द्वारा हमें ऑपरेशन के लिए कहा गया व साथ में जांचे कराने को दी इसके बाद 29 दिसंबर को हम मरीज को लेकर भर्ती हो गये जिसमें दूसरे दिन डाॅ. राउंड पर आये और कहा की कल शनिवार को हाथ का ऑपरेशन है व अन्य जांचे कराई गई जिसमें एक बेहोशी की जांच थी जिसके लिए हमे निश्चेतना विभाग में भेजा गया।

जिसमें हमारी जांच हुई और हमसे निश्चेतना विभाग के डॉ द्वारा पूछा गया की आप के किस हाथ में फ्रैक्चर है तो हमारे द्वारा बताया गया कि हमारे दाहिने हाथ में फ्रैक्चर है व इसी का ऑपरेशन होना है तब वहां डाॅ द्वारा बताया गया कि आपकी फाइल में तो बायें हाथ के ऑपरेशन का लिखा गया है व कहीं तक आपके दायें हाथ का इलाज किया गया है और उन्होने पूछा की कोई बीमारी तो नहीं है तो हमारे द्वारा बताया गया।

कि मरीज को अस्थमा कि शिकायत रहती है फिर डाॅ द्वारा मरीज की फाइल अस्थमा की शिकायत रहती है फिर डाॅ द्वारा मरीज को आथौविभाग में भेज दिया गया लेकिन हमारा अस्थमा का कोई इलाज नहीं किया गया व समस्त स्टाफ द्वारा मरीज व उसके साथ वाले के साथ अत्यंत अभद्रता जनक व गलत व्यवहार किया इस कारण हमारे मरीज को मानसिक व शारीरिक हानि पहुंची है

दुसरे दिन शनिवार को हम एम एस में शिवांगी मेम के पास अपनी शिकायत को लेकर पहुंचे कि हमारे दायें हाथ की जगह बाएं हाथ का ऑपरेशन किया जा रहा है तो मेम ने भी कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दिया हमने छुटटी के बोला तो हम पर ही आरोप लगाकर बोल रे है कि मरीज भाग गया इसके बाद हमने डीन ऑफिस में भी आवेदन किया लेकिन वहां भी कोई सुनवाई नहीं हुई और यदि मरीज के हाथ में सही ढंग से व विलंब से उपचार होने की दशा में कोई और परेशानी आती है तो इसका जिम्मेदार समस्त मेडिकल कॉलेज का स्टाफ रहेगा।-