Shivpuri News- फतेहपुर में दीपक, मां की साड़ी से लटका मिला, सोलह श्रृंगार का शौक था, किन्नरों जैसा व्यवहार

प्रदीप मोंटू तोमर@ शिवपुरी। खबर शिवपुरी शहर की सिटी कोतवाली सीमा में आने वाली गणेश कॉलोनी से आ रही है कि कॉलोनी में निवास करने वाला एक 35 वर्षीय युवक अपने कमरे में पंखे से लटका मिला है,युवक अपनी मां की साडी से लटका है। युवक अविवाहित था और उसे महिलाओं के तरह सोलह श्रृंगार करने का शौक था। कोतवाली पुलिस ने मौके पर पहुंच कर लाश का उतारा और पीएम के लिए भेज दिया और इस मामले की जांच शुरू कर दी हैं।

जानकारी के अनुसार शहर की गणेश कॉलोनी खंडेलवाल फैक्ट्री के पीछे फतेहपुर क्षेत्र में निवास करने वाला दीपक तिवारी उम्र 35 साल आज सुबह अपने कमरे में फंदे पर लटका मिला है। दीपक की लाश पंखे से लटकी थी और वह अपनी मां की साडी से लटका था। दीपक का मकान दो मंजिला था और वह मकान के फस्ट फ्लोर पर बने एक कमरे में रहता था वह अपना खाना पीना भी अलग बनाता था। आज उसके बडे भाई पंकज का 8 साल को बेटा उसे बुलाने आया तो वह फांसी के फंदे पर लटका दिखा दीपक के कमरे के दरवाजे भी खुले हुए थे,देर रात 11 बजे वह अपने कमरे में सोने को गया था।

भाभी ने कहा किन्नरों सा व्यवहार और सौलह श्रृंगार करता था
दीपक तिवारी की बड़े भाई पंकज की पत्नी लक्ष्मी तिवारी भाभी ने बताया कि दीपक ऊपर की मंजिल पर अकेला ही रहता था और स्वयं अपना खाना पीना बनाता था। आज सुबह मेरे ससुर गणेश तिवारी जो पैरालाइसिस होकर बिस्तर पर है उनकी साफ सफाई के लिए मैंने अपने बेटे हिमांश से कहा कि ऊपर चले जाओ और चाचा का बुलाकर ले आओ।

हिमांशु ऊपर गया और भगा-भगा नीचे आया और बोला की मम्मी चाचा ने फांसी लगा ली है। लक्ष्मी तिवारी ने बताया कि दीपक का व्यवहार किन्नरों जैसा था वह ड्रेसिंग टेबल के आगे घंटों खड़े रहकर महिलाओं जैसे सौलह श्रृंगार करता था। मेरी सांस की मृत्यु 2006 में हो गई थी और उनकी साडिया दीपक के कमरे में रखी रहती थी उनको वह पहनता था। इसलिए उसकी शादी भी नहीं हो रही थी।

मोहल्ले में महिला बनकर आता था
दीपक के पड़ोसियों ने बताया कि दीपक किसी से अधिक बातचीत नहीं करता था और मिलनसार और शांत स्वभाव का था। जब मोहल्ले में कोई प्रोग्राम होता था तो वह महिला बनकर आता था। वह साड़ी लिपस्टिक और चूडिया बैंदा भी लगा लेता था कुल मिलाकर महिलाओं जैसे सौलह श्रृंगार करता था। सूत्रों के मुताबिक दीपक प्रतिदिन किसी से घंटो बात भी करता था।

share this



कृपया हमें फॉलो/सब्सक्राइब कीजिए