NARWAR से SHIVPURI तक घोड़ा पछाड़ सांप एक्टिवा पर पवन के साथ बैठकर चला आया

शिवपुरी। खबर थोडी हट कर हैं आसानी से विश्वास नहीं होगा की एक्टिवा पर एक घोडा पछाड सांप चालक के साथ बैठकर नरवर से शिवपुरी आ गया,लेकिन स्कूटी चालक को पता नहीं चला,लेकिन जैसे ही वह शहर में अपने घर आया और किसी ने बताया कि कालराज आपके स्कूटर में बैठे है तब यह घटना सामने आई।

शिवपुरी के वार्ड क्रमांक 2 शक्तिपुरम में एक घर के सामने एक व्यक्ति को स्कूटी की डिग्गी में सांप को बैठा देखा। उसने तत्काल मालिक को यह सूचना दी की स्कूटर की में नागराज बैठे हैं। स्कूटी की डिग्गी में सांप की सूचना मिलते ही मौके पर भीड़ एकत्रित हो गई। मौके पर मौजूद लोगों ने स्नेक सेवर राकेश रजक को बुलाकर सांप को पकड़वाया।

तब कहीं जाकर स्कूटी मालिक की जान में जान आई। स्नैक कैचर ने सांप को पकड़ने के बाद उसे जंगल में छोड़ दिया। राकेश रजक ने बताया कि सांप घोड़ा पछाड़ प्रजाति का है। इसकी लंबाई तीन फीट की थी।

शक्तिपुरम के रहने वाले पवन शर्मा ने बताया कि वह किसी काम के चलते स्कूटी से नरवर गए थे। नरवर में जब उन्होने स्कूटी को खड़ा किया थाए संभवत तभी यह सांप उनके स्कूटी में घुस गया। डिग्गी में बैठकर 45 किलोमीटर दूर शिवपुरी पहुंच गया। गनीमत ये रही की सांप चलती स्कूटी से बाहर नहीं निकला नहीं तो कोई अप्रिय घटना घटित हो सकती थी।