कृषि उपज मंडी खनियाधाना में किसानों की फसल तोल में हो रही मनमानी-सचिव मौन- khaniyadhana News

अतुल जैन खनियाधानां
। खबर पिछोर अनुविभाग में आने वाली कृषि उपज मंडी से आ रही हैं कि मंडी मे किसानों की उपज की तौल में शासन के नियमो को तोडा जा रहा हैं। वर्तमान समय में मूंगफली की आवक मंडी में हो रही हें किसान अपनी मूंगफली लेकर मंडी में आ रहे है लेकिन मंडी में खरीददारी कर रहे व्यापारी किसानों की तौल में हेराफेरी कर रहे हैं।

जानकारी के अनुसार खनियाधाना कृषि उपज मंडी में मूंगफली की आवक हो रही हैं। किसान अपनी उपज लेकर मंडी में बेचने के लिए आ रहे हैं लेकिन मंडी प्रशासन की लापरवाही या मिलीभगत से किसानों की उपज में तौल में गड़बड़ी की जा रही हैं। बताया जा रहा है कि 150 ग्राम की खाली बोरी का वजन होता है लेकिन किसान 700 ग्राम वजन काटा जा रहा हैं। इस समय सैकडो बोरी मूंगफली की आवक हो रही हैं,ऐसे में कई विक्टल की चोरी प्रतिदिन की जा रही है।

मंडी में शिवपुरी समाचार के संवाददाता को ग्राम पिपरौदा, नदावन, मरौना, कफार, चमरौआ आदि ग्रामों के किसानों ने बताया कि हमारी फसल का कृषि उपज मंडी में सही भाव भी नहीं लग पाता जिसमें मंडी सचिव के साथ मिलकर व्यवसायी अपने भाव से यहां फसल खरीदते हैं एवं शिवपुरी जिले के करैरा कोलारस आदि मंडियों में खनियाधाना की मंडी से लगभग 5 से 10 किलो का अंतर मिलता है लेकिन यहां सभी मंडियों की अपेक्षा कम भाव मिल रहे हैं

इनका कहना ..
हम अपनी मूंगफली की फसल मंडी में बेचने आए हैं बोली लगने पर भाव हो गया लेकिन तौल में 150 के खाली बारदाना का 700 ग्राम वजन अलग से तौल में ले रहे हैं कोई सुनवाई नहीं है मंडी सचिव अपने कार्यालय में ही बैठे रहते हैं हम किसानों के बीच नहीं आते।
बिशाला सिंह यादव पिपलौदा उबारी किसान.

हम समय.समय पर निरीक्षण करते हैं और रही तौल की बात तो हम कल से जाकर दिखवा लेंगे एवं शासन की ओर से भी नियम में 200 ग्राम तौल से ज्यादा ले सकते हैं
नागेश्वर भगत,सचिव कृषि उपज मंडी खनियाधाना