शिवपुरी में कम्प्यूटर इंजीनियर की जॉब छोड़ खेत में फसल उगा रहा है यह युवा: 5 बीघा में 20 लाख का गणित- Shivpuri News

शिवपुरी।
भारत कृषि प्रधान देश हैं और खेती में भी अपना करियर बनाया जा सकता है इसी सोच को साकार करने के लिए एक कम्प्यूटर इंजीनियर ने अपनी इंजीनियरिंग अब सब्जी उगाने में कर रहे है। अपनी इंजीनियर की जॉब को छोड अब खेतो में शिमला उगाने में अपनी पढ़ाई का ज्ञान खर्च रहे हैं। युवक का कहना है कि हमें उन्नत खेती की ओर जाना चाहिए और खेती में कैरियर की अपार संभावनाएं हैं। इस बार पांच बीघा जमीन पर 20 लाख रुपए की पैदावार करने का अनुमान हैं।

जानकारी के अनुसार शिवपुरी जिले के ठर्रा-ठर्री गांव के रहने वाले कंप्यूटर इंजीनियर हर्षवर्धन मजेजी के किसान बनने के बाद क्षेत्र में उनकी चर्चाएं जो रहीं है। कंप्यूटर इंजीनियर हर्षवर्धन मजेजी ने बताया कि वह इंदौर में इंजीनियर की जॉब करते थे परन्तु उनका मन जॉब में नहीं लग रहा था। उनके गांव में जमीन थी बचपन से लेकर वह उसी जमीन पर खेती होते भी देखते आए थे।

उन्होंने फैसला लिया कि वह इंजीनियर की जॉब छोड़ कर कृषि क्षेत्र में हाथ आजमाएंगे। इसके लिए पहले उन्होंने अपने परिजनों से बात की। परिजन भी मान गए। इसके बाद वह जॉब को छोड़कर शिवपुरी वापिस आ गए। यहां उन्होंने खेती में हाथ आजमाया और परंपरागत खेती से हटकर अलग प्रकार से खेती करने में जुट गए।

परंपरागत खेती से हटके उगाई फसल

इंजीनियर से किसान बने हर्षवर्धन मजेजी ने इस बार पांच बीघा जमीन में नया प्रयोग करते हुए यहां पर शिमला मिर्च की फसल उगाई है। इस शिमला मिर्च के जरिए किसान हर्षवर्धन ने बीस लाख रुपए तक कमाने का अनुमान लगाया है।

किसान हर्षवर्धन ने बताया कि वह तक वह अपने खेत से लगभग 100 क्विंटल शिमला मिर्च निकाल चुके हैं और आने वाले समय में मौसम अनुकूल रहा तो शिमला मिर्च का अच्छा उत्पादन होगा।गौरतलब है कि शिमला मिर्च का बाजार भाव लगभग 40 से 50 रुपए किलो चल रहा है।