शिवपुरी जिले की आठों विकासखंड में BRCC और APC हुए फायनल, जारी हुई सुचीः पढिए नाम- Shivpuri News

शिवपुरी।
जिले के आठों विकासखंड में BRCC और जिला शिक्षा केंद्र में APC बनाने के लिए राज्य शिक्षा केंद्र ने 16 अगस्त को परीक्षा आयोजित कराई थी। परीक्षा के आयोजन के उपरांत तमाम विवादों के चलते 30 अगस्त को होने वाली प्रतिनियुक्ति लटकी रही। अंततः एक महीने बाद सभी विवादों का निपटारा होने के उपरांत सोमवार को प्रतिनियुक्त किए गए शिक्षकों की अंतिम सूची जारी कर दी गई है।

उल्लेखनीय है कि जिला शिक्षा केंद्र के आठों ब्लॉक में BRCC और APC की भर्ती हाई कोर्ट के आदेश और जांच अधूरी पड़ी होने के कारण लटकी हुई थे। ऐसे में 30 अगस्त के प्रतिनियुक्त होने वाले शिक्षकों की सूची जारी नहीं हो सकी। अंततः अब BRCC के संबंध में कोर्ट के आदेश और APC जेंडर के संबंध में अधूरी पड़ी जांच के मामले के निराकरण के उपरांत 3 अक्टूबर को जिला शिक्षा केंद्र ने अंतिम सूची जारी कर दी हैं। इस सूची में आठो ब्लॉक के BRCC सहित चार APC के नाम शामिल हैं। सूची में शामिल नामों में 6 साल तक शिवपुरी में प्रभारी रहे BRCC अंगर सिंह तोमर को अब बदरवास का BRCC बनाया गया है।

वहीं एसपीसी जेंडर के पद पर लगभग फाइनल हो चुके अनीता गुप्ता के नाम पर उनके विरूद्ध लंवित पड़ी जांच के कारण वीटो लग गया और संतोष गर्ग को APC जेंडर बनाया गया है। इसके अलावा अशोक कुमार कवीर को APC अकादमिक, अतर सिंह राजोरिया को एपीसीईएंडआर, उमेश बरारे को APC मोबिलाइजेशन बनाया गया है।

कहां कौन बना BRCC

अंतिम सूची में विनोद कुमार तिवारी को BRCC करैरा, प्रदीप अवस्वी को BRCC नरवर, संजय भदौरिया को BRCC खनियाधाना, रामकृष्ण शिवहरे को BRCC पोहरी, एचएस शर्मा को BRCC कोलारस, सुदर्शन गुप्ता को BRCC पिछोर,अंगद सिंह तोमर को BRCC बदरवास, बालकृष्ण ओझा को BRCC शिवपुरी की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

टेलीफोनिक कार्यालय नहीं चला सकेगा कोई भी BRCC

संबंधित लोक सेवक को अपने मूल विभाग से विधिवत कार्यमुक्त होकर जिला शिक्षा केंद्र में अपनी उपस्थिती देनी होगी। इसके अलावा संबंधित को अपने प्रतिनियुक्ति स्थल पर ही अपना मुख्यालय बनाना होगा, यानि कि कोई भी BRCC या एपीसी अपने गृह ब्लाक में निवास करके टेलीफोनिक कार्यालय नहीं चला सकेगा। अगर किसी BRCC या एपीसी द्वारा कार्य में लापरवाही बरती गई और विभाग उसके कार्य से संत हुआ तो उसकी प्रतिनियुक्ति तत्काल समाप्त कर दी जाएगी।