थीम रोड पर 3 नहीं 11 गड्ढे- PWD और ठेकेदार की क्लास ली: यशोधरा राजे सिंधिया- Shivpuri News

शिवपुरी। केन्द्र और राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन को लेकर आज प्रदेश की कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कलेक्ट्रेट कार्यालय में मैराथन बैठक ली। बैठक के उपरांत मीडिया को जानकारी देते हुए कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे ने जानकारी देते हुए बताया कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जनकल्याण के प्रति संजीदा है।

धरातल पर जनकल्याणकारी योजनाओं को लाकर उनका लाभ जन-जन को मिले इसके लिए वह सतत प्रयासरत है। मुख्यमंत्री की जनकल्याण के प्रति समर्पित मंशा को आज बैठक के दौरान अधिकारियों को बताते हुए स्पष्ट तौर पर कहा गया है कि सभी जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ धरातल पर एक-एक व्यक्ति तक पहुंचना चाहिए।

कैबिनेट मंत्री ने बताया कि मुख्यमंत्री जन सेवा के प्रति प्राण पण से एक-एक पल समर्पित हैं उनकी समर्पण भावना से प्रेरणा लेकर हम सभी को सभी जनकल्याणकारी योजनाओं को विस्तार देकर एक-एक व्यक्ति तक पहुंचना है कैबिनेट मंत्री ने बैठक के दौरान ही जन कल्याण से जुड़ी कई योजनाओं का लाभ तत्काल पहुंचाने की पहल भी की। बैठक में आयुष्मान कार्ड, उज्जवला एवं जहां विद्युत की समस्या थी वहां उसका तत्काल निराकरण भी किया गया।

कार्यकाल से पहले पूरी कर दूंगी कहानी: यशोधरा राजे

जनकल्याण के लिए समर्पित बैठक के बाद कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने मीडिया के एक प्रश्न के जवाब में कहा कि मैने समय रहते 29 सडक़ों का गुणवत्ता पूर्ण निर्माण कराके बहुत हद तक विकास की कहानी पूरी कर दी थी।

थीम रोड़ मेरा सपना था जिसे साकार करने के लिए मैने हर संभव प्रयास किए और आज भी मैं पूरी जिम्मेदारी के साथ आपसे कह रही हूं कि झांसी रोड़ का निर्माण भी मैं अपने कार्यकाल से पहले करके सडक़ों की कहानी पूरी कर दूंगी।

फंड के अभाव और ठेकेदार के भुगतान न होने से आ रही अड़चन के जवाब में यशोधरा राजे सिंधिया ने दमदारी और दृढ़ता से कहा कि मैं 29 सडक़ों के लिए पैसा ला सकती हूं तो आप भरोसा करो झांसी रोड़ का निर्माण भी मैं कराने में सफल होने के लिए हर संभव प्रयास करके सडक़ बनाबा दूंगी।

थीम रोड पर नकारे एक्सक्यूज

थीम रोड पर बारिश में गड्ढे हो जाने के विषय पर बैठक में कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने पीडब्ल्यूडी और ठेकेदार की क्लास ली। दो टूक पूछा गया थीम रोड़ में गड्ढे कैसे हुए? जवाब में जो कुछ कारण बताए गए उन्हें यशोधरा राजे ङ्क्षसधिया ने सिरे से न सिर्फ खारिज किया बल्कि पूर्व में बनाई गई 29 सडक़ों की गुणवत्ता को सामने रखकर कैबिनेट मंत्री ने जिम्मेदारों की बोलती बंद कर दी।

मीडिया से चर्चा के दौरान कैबिनेट मंत्री ने एक प्रश्न के जवाब में साफगोई से स्वीकार करते हुए कहा कि थीम रोड पर 3 नहीं 11 गड्ढे हुए थे। जिसको लेकर मैंने बैठक में जिम्मेदारों से बात की और उनके द्वारा दिए गए एक्सक्यूज नकार दिए। पेच वर्क ही उपाय है जो बिना यातायात को बाधित किए किया जा रहा है।