भरभरा कर फूट गया भाजपा का विकास:17.41 करोड़ की 41 लागत से बनने वाला डैम फुटा


शिवपुरी। खबर जिले की बदरवास जनपद ने आने वाली ग्राम पंचायत बडोखरा से आ रही है कि ग्राम बडोखरा में 17 करोड़ 41 लाख की लागत से बनने वाला निर्माणाधीन डेम बीती रात्रि 12 बजे फूट गया और इस डेम में भरे पानी ने बडौखरा ग्राम को अपनी चपेट में ले लिया।

इस डेम से 500 हेक्टेयर कृषि भूमि की सिंचाई की क्षमता थी,लगभग 1 दर्जन से अधिक गांव इस डेम का पानी का उपयोग अपनी कृषि भूमि की सिंचाई का उपयोग करते,लभगग 850 परिवार इस डैम से लाभान्वित होते। वही इसी डेम से बदरवास नगर को पानी पिलाने के लिए 12 करोड़ की लागत से नल जल योजना भी कोलारस विधायक वीरेंद्र रघुवंशी ने स्वीकृत कराई थी। अब इस डेम के फूट जाने के कारण यह योजना खटाई में पड़ गई हैं।

बताया जा रहा है कि इस डेम की पानी को रोकने वाली एक दीवार ढह गई,यह दीवार बोल्डर और मुरम की बनी हुई थी। यह दीवार पानी के दबाब को नहीं झेल सकी और ढह गई। हालांकि इस डेम को लेकर बदरवास तहसीलदार रेड अलर्ट पर थे वह बार बार ग्रामीणों से डेम को खाली करने की बात कह रहे थे।

जानकारी के अनुसार जल संसाधन विभाग के द्वारा स्वीकृत ग्राम बडौखरा में मप्र लघु सिंचाई योजना के तहत स्वीकृत किया था। इस डेम की डीपीआर बनाने के लिए लगभग 1 करोड़ रुपए खर्च हुआ था। डीपीआर में इस डेम की लागत लगभग 18 करोड आंकी गई। कोलारस विधानसभा के उप चुनाव से पूर्व 23 दिसंबर 2017 को इस डेम का भूमिपूजन तत्कालीन जल संसाधन मंत्री नरोत्तम मिश्रा के द्वारा किया गया था।

इस डेम को आज लगभग 5 साल हो गए लेकिन यह अभी पूर्णता की ओर नही था। वर्षाकाल के कारण इस डेम में पानी भर रहा था और इस डेम के पानी की रोकने वाली एक दीवार आज रात 12 बजे के लगभग ढेर हो गई और डेम से पानी बहने लगा और डैम के पानी ने बडौखरा गांव को अपनी चपेट मे लिया। रात में बदरवास के तहसीलदार मौके पर पहुंच गए और गांव के कई परिवारों को सरकारी स्कूल में शिफ्ट कराया हैं। इस डैम के फूटने का कारण गुणवत्ताहीन सामग्री का उपयोग बताया जा रहा है,जिले में पानी से अधिक भ्रष्टाचार हाहाकार मचा रहा हैं।