घर के थर्ड फ्लोर पर सो रहे महेश गुप्ता में मारी गोली,सिर से आर-पार हो गई: मौत- Shivpuri News

पिछोर। खबर जिले के पिछोर नगर से आ रही है कि पिछोर कस्बे में रहने वाले एक अधेड उम्र के व्यापारी को उनके घर में ही किसी अज्ञात ने गोली मारकर हत्या कर दी। बताया जा रहा हैं कि नीचे सो रहे परिजनों को आधी रात गोली की आवाज को सुना और बिजली कड़कने की आवाज समझ कर सो गए। जब सुबह हुई जब समझ में आया कि रात में यह आवाज बिजली कड़कने की नहीं बल्कि घर में चली गोली की आवाज है।

पुलिस ने कमरे का मौके पर जाकर इस मामले की जांच की ओर अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। इस गोली कांड को लेकर कई सवाल उठ रहे है पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है। सबसे बड़ा सवाल की हत्यारा घर की थर्ड फ्लोर पर कैसे चढ़ा होगा।

जानकारी के अनुसार पिछोर कस्बे में नगरिया कॉलोनी में निवास करने वाले महेश गुप्ता तीसरी मंजिल पर सो रहे थे। बाकी सदस्य पहली और दूसरी मंजिल पर थे। रात करीब 2 बजे अज्ञात बदमाशों ने महेश गुप्ता को गोली मार दी। गोली चलने की आवाज आने पर परिजनों ने सोचा बिजली कड़की हाेगी। ऐसे में फिर से सो गए।

महेश सुबह-सुबह नीचे आ जाया करते थे। ऐसे में शुक्रवार सुबह 6 बजे नीचे नहीं आए तो परिजन ऊपर पहुंचे, जहां गुप्ता की लाश बिस्तर पर पड़ी हुई थी। उसके सिर पर गोली लगी थी। परिजनों ने इसकी सूचना तत्काल पिछोर थाना पुलिस को दी। सबसे बड़ा सवाल है कि तीसरी मंजिल पर सो रहे गुप्ता को बदमाश से कैसे गोली मारी होगी। वह किसी प्रकार से इतने ऊपर गया होगा। गोली पास से मारी गई हैं माथे से धंसते हुए सिर के पीछे से निकल गई। घाव का साइज देखकर लगता है कि गोली पिस्टल से मारी गई है।

आर्मी मैन बड़े बेटे ने भी कर लिया था सुसाइड, क्लेम में मिले थे लाखों रुपए

मृतक महेश गुप्ता का बड़ा बेटा अनिल गुप्ता आर्मी में था। अज्ञात कारणों के चलते 2020 में घर में ही उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। बेटे की मौत के बाद पिता को क्लेम, इंश्योरेंस के 60 से 70 लाख रुपए मिले थे। महेश ने घर और व्यापार में कुछ पैसे खर्च किए थे, बाकी के उनके पास ही थे। प्रारंभिक पड़ताल में पता चला है कि मृतक महेश गुप्ता को छोटा बेटा 25 साल का अंकित शादीशुदा है और बेरोजगार है। ऐसा माना जा रहा है कि गुप्ता की हत्या रुपयों को लेकर ही की गई है।