पार्षद पत्नि का पल्लू पकड़ कर पति को परिषद में घुसने की होगी नो एंट्री- Shivpuri news

शिवपुरी। मतदान के एक दिन पहले पत्रकारों से अनौपचारिक चर्चा करते हुए स्थानीय विधायक और प्रदेश सरकार की मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने नपा चुनाव में भाजपा की जीत का विश्वास व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि परिषद में भाजपा को बहुमत मिलेगा और अध्यक्ष भी भाजपा का बनेगा। यशोधरा राजे ने कहा कि इस बार नगर पालिका अलग लुक में दिखेगी।

महिला पार्षदों को प्रशिक्षण दिया जाएगा ताकि वह जनसमस्याओं को जान सकें, समझ सकें और उसका निदान कर सकें। साथ ही उनमें नेतृत्व के गुणों का भी विकास हो। परिषद में इस बार पार्षद पति नजर नहीं आएंगे तथा नगर पालिका की कमान चुनी गई महिला पार्षदों के हाथों में रहेगी। यशोधरा राजे ने नगर पालिका के पिछले कार्यकाल पर खुलकर असंतोष जाहिर किया और कहा कि इसी कारण उन्हें नगर के विकास में समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

कत्था मिल पर आयोजित अनौपचारिक पत्रकार वार्ता में यशोधरा राजे ने शहर के विकास के लिए मीडिया से सहयोग मांगा। उन्होंने कहा कि जनसमस्याओं के लिए वह हमेशा सचेत रहते हैं। चाहे कोरोना काल हो या बाढ़ की विभीषिका हो या कोई भी संकट की स्थिति, वह हर समय अपनी जनता के लिए सुलभ रहती हैं। लेकिन इसके बाद भी मीडिया की आलोचना से कभी-कभी वह विचलित हो जाती हैं। उन्होंने कहा कि थीम रोड़ के काम को उन्होंने एक चुनौती के रूप में स्वीकार किया और शिवपुरी को इसकी एक अनुपम सौगात दी।

लेकिन उसके बाद भी यह कहा जा रहा है कि थीम रोड़ के निर्माण में डेढ़ साल की देरी हुई। शहर की साफ-सफाई व्यवस्था, सड़कों पर गड्डे, नालों की सफाई आदि मुद्दों पर सोशल मीडिया में उन्हें अकारण निशाना बनाया जाता है। शायद इसका एक कारण संवादहीनता की स्थिति भी हो सकती है। लेकिन विकास और नगर के लिए बेहतर से बेहतर काम करने में वह कोई कसर नहीं छोड़तीं।

पत्रकारों ने भी उनके जनहितैषी रूख की प्रशंसा की और कहा कि मीडिया उन्हें निशाना नहीं बनाती बल्कि भ्रष्ट और अफसरशाही को कठघरे में खड़ा करती है। यह आलोचना उनकी नहीं है और आलोचनाओं को उन्हें सकारात्मक रूप से लेना चाहिए। ऐसे अधिकारी जो जनता के लिए काम नहीं कर रहे उन्हें शिवपुरी में रखने की जरूरत क्या है। पत्रकारों ने खासतौर पर सीएमओ शैलेष अवस्थी पर निशाना साधा और कहा कि वह किसी के भी फोन नहीं उठाते। इस पर यशोधरा राजे ने भी सहमति व्यक्त की और कहा कि वह मेरे भी फोन नहीं उठाते।

 पत्रकारों ने यशोधरा राजे से कहा कि इन्हीं बातों को मीडिया और सोशल मीडिया में लिखा जाता है ताकि किसी तरह से अधिकारियों के रवैये में सुधार तो हो। पत्रकारों ने यशोधरा राजे को आश्वस्त किया कि वह उनके द्वारा किए गए हर अच्छे काम की सराहना करते रहेंगे और जहां-जहां भी मार्गदर्शन और सलाह की आवश्यकता होगी, वह भी देने में संकोच नहीं करेंगे। यशोधरा राजे ने कहा कि मुझसे यदि सम्पर्क न हो पाए तो समस्याएं मेरे कार्यालय को भी बताई जा सकती हैं और उनका तुरंत निराकरण होगा।

भाजपा के लिए चुनौती नहीं फिर वार्डों में टक्कर क्यों
यशोधरा राजे सिंधिया ने पत्रकारों से संवाद करते हुए कहा कि भाजपा के पास नरेंद्र मोदी जैसे यशस्वी प्रधानमंत्री हैं। जिनकी देश और विदेश में ख्याति है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जनहितैषी कार्यों को अंजाम देने के लिए जाने जाते हैं। आपकी विधायक के रूप में 24 घंटे मैं आपसे आपके सुख दुख में जुडी हूं। ऐसी स्थिति में तो नगर पालिका चुनाव में भाजपा के लिए कोई चुनौती नहीं होनी चाहिए। लेकिन जब सुनती हूं कि वार्डों में टक्कर है तो मुझे आश्चर्य होता है। इस पर पत्रकारों ने जवाब देते हुए कहा कि परिणाम आने से पहले ऐसी चर्चाएं तो होती ही हैं। इससे परिणाम के प्रति दिलचस्पी बनी रहती है।