Shivpuri News- ठगी से बचाने वाली खबर: इनके 1 लाख उड गए आपके भी उड़ सकते है

शिवपुरी।
ऑनलाइन पेमेंट की व्यवस्था में कभी ठग सेंध लगा देते है। आमजन जब तक उससे बचने का तरीका खोजते हैं वह एक नही स्कीम लाकर लोगो को ठगने लग जाते है। यह खबर उन सभी लोगों के लिए हैं जो ऑनलाइन लेनदेन करते है। आपने भी किसी से पेमेंट लेने के लिए अपना फोनपे या गूगल पे के लिए अपना बारकोड भेजा होगा,आपका पेमेंट भी आया होगा ।

लेकिन यह खबर हमें बताती है कि अब किसी भी अपरिचित व्यक्ति को पेमेंट लेने के लिए अपना बारकोड नहीं भेजे नही तो आप भी ठगी का शिकार हो सकते हैं यह खबर आप ध्यान से पढिए क्यों कि यह खबर आपको ठगने से बचा सकती है।

CRPF कैंपस‎ के पास मकान निर्माण की बात‎ कहकर बदमाश ने 70 बैग का‎ ऑर्डर दिया था। एजेंसी संचालक‎ दाताराम प्रजापति ने ट्रैक्टर.ट्रॉली में‎ 24500 रूपए कीमत का सीमेंट लोड‎ कराकर बताए पते पर भिजवा‎ दिया। शुरूआत में बदमाश ने कैश‎ भुगतान की बात कही। फिर बाद में‎ फोन.पे से भुगतान लेने की बात‎ कही। दाताराम फोन.पे नहीं‎ चलाते।

इसलिए अपने कर्मचारी‎ गोविंदा का नंबर दे दिया। इस तरह‎ गोविंदा के खाते से उक्त रकम पार‎ कर दिए। इधर काफी इंतजार के‎ बाद सीमेंट लेने कोई नहीं आया तो‎ चालक ट्रैक्टर.ट्रॉली लेकर लौट‎ आया।‎ गोविंदा ने‎ बताया कि खाते में दो लाख रूपए थे, जिसमें से बदमाश ने एक‎ लाख रूपए पार कर दिए।

ऐसे उडया ठग ने 1 लाख रूपया
गोविंदा‎ प्रजापति पुत्र बाबूलाल प्रजापति‎ निवासी करौंदी कॉलोनी शिवपुरी ने‎ पुलिस को बताया कि वह रेलवे क्रासिंग‎ शिवपुरी के पास स्थित सीमेंट‎ दुकान पर काम करता है। 29‎ जुलाई की दोपहर एक बजे‎ मोबाइल नंबर 8535872429 से‎ कॉल आया और सीमेंट भिजवाने‎ की बात कही। ट्रैक्टर.ट्रॉली में‎ सीमेंट भरकर सीआरपीएफ क्षेत्र में‎ भिजवा दिया गया।  

इधर बदमाश ने‎ ऑनलाइन भुगतान के लिए मेरे फोन पे का बारकोड मांगा,मैंने उसको बारकोड सेंड कर दिया। उसके बाद ठग ने 1 रूपए भेजा  फिर 2 रुपए भेजकर‎ बैलेंस चेक करने को कहा। जैसे ही‎ गोविंदा ने पिन कोड एंटर करके‎ बैलेंस चेक किया तो खाते से तीन‎ बार में 10-10 हजार रुपए कट‎ गए। फिर चौथी बार में 69 हजार‎ 999 रुपए कट गए। इस तरह 99‎ हजार 999 रुपए खाते से बदमाश‎ ने निकाल लिए।‎

ठगी का‎ पता चलते ही गोविंदा ने खाते पर‎ होल्ड लगवा दिया और बैंक‎ ऑफ इंडिया शाखा जाकर अपने‎ खाते से शेष एक लाख रूपए कैश‎ भुगतान करा लिया। गोविंदा का‎ कहना है कि शादी के लिए दो‎ लाख रूपए जोड़कर रखे थे।‎ दिसंबर 2022 में उसकी शादी‎ होना है। ठगी ने अरमानों पर‎ पानी फेर दिया है।‎