वोट के बदले नोट लेना पड़ रहा है भारी, चुनाव के बाद होने लगी वसूली- Shivpuri News

शिवपुरी। बदरवास विकासखंड में पंचायत चुनाव सम्पन्न हो चुके हैं और अब चुनाव के बाद उन मतदाताओं की मुसीबत बढ़ गई है। जिन्होंने वोट के बदले नोट लिये थे। चुनाव हारने वाले प्रत्याशी के परिवार अब बांटे गए रूपयों की वसूली करने लगे हैं। वे कह रहे हैं कि तुमने हमें वोट नहीं दिया। पैसे वापिस करो। इससे प्रताडि़त 50 आदिवासी महिलाएं और पुरूष रन्नौद थाने पहुंचे। जहां उन्होंने अपनी शिकायत दर्ज कराई।

शिकायत वेदमऊ ग्राम पंचायत की है। आदिवासी महिलाओं ने बताया कि हमें पैर छू-छू कर चुनाव लडऩे वाले ने पैसे दिए और अब जब वह चुनाव हार गया तो घर में घुसकर वह तथा उसके समर्थक अश£ील बारतलाव कर रहे हैं और कह रहे हैं कि रूपये वापिस करो नहीं तो घघेंया खोल देंगे। वे कह रहे हैं कि शैलेंद्र और बंटी हमें घर पर रोटी भी नहीं खाने दे रहे। कंट्रोल का राशन नहीं दे रहे। राधेश्याम आदिवासी ने बताया कि मेरे साथ मारपीट की गई है। एक मतदाता ने कहा कि जबरन घर आकर औरतों को पैसे दे आए और अब हमारी मारपीट कर रहे हैं।

इनका कहना है-
वेदमऊ गांव के प्रत्याशी और ग्रामीणों ने थाने में आकर एक-दूसरे की शिकायत की थी। लेकिन अब आपसी बातचीत से उन्होंने अपना मामला सुलझा लिया है और कोई शिकायत नहीं की। इसलिए फिलहाल किसी के खिलाफ कोई केस दर्ज नहीं किया गया है।
योगेंद्र सिंह सेंगर, थाना प्रभारी रन्नौद