खनियाधाना में मतगणना के दौरान जमकर विवाद: पुलिस देखकर मची भगदड, दो लोग सूखे कुएं में जा गिरे- khaniyadhana News

खनियांधाना। खबर जिले के खनियाधाना थाना क्षेत्र के वनखेडा शंकरपुर गांव से आ रही है। जहां कल देर रात चुनाव के बाद मतगणना के दौरान दोनों प्रत्याशियों के समर्थक आपस में भिड़ गए। यह भिड़ंत इतनी जोरदार थी कि दोनों और से पथराव होने लगा। पथराव के हालात देखते ही मतगणना में लगी टीम ने तत्काल इस मामले की सूचना पुलिस को दी। जैसे ही पुलिस की टीम गाड़ियों से सायरन बजाती मौके पर पहुंची गांव में भगदड मच गया। इस भगदड़ के दौरान दो लोग पास ही एक सूखे कुएं में जा गिरे। इस मामले की सूचना प्रशासन को लगी और उन्होंने ग्रामीणों की मदद से दोनों को रेस्क्यू कर बाहर निकाला। दोनों को उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के अनुसार, खनियाधाना जनपद की विवादित पंचायत वनखेड़ा शंकरपुर में देर रात सरपंच पद के लिए हुए मतदान की गिनती की तैयारी हो रही थी। इस दौरान दो गुटों में झगड़ा होने लगा। झगड़ा मारपीट और पथराव तक पहुंच गया। पोलिंग पार्टी ने जब मामले की जानकारी पुलिस को दी तो पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस की गाड़ी को देख गांव में भगदड़ मच गई। इसी भगदड़ के दौरान दो लोग ब्रजलाल जाटव,बुंदेल सिंह यादव निवासी शंकरपुर एक सूखे कुएं में जा गिरे। जिन्हें पुलिस ने कुए से बाहर निकाला। जिसके बाद रात में ही मतगणना पुलिस सुरक्षा के बीच सम्पन्न कराई गई।

पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल का कहना है कि देर रात वनखेड़ा शंकरपुर में मतगणना स्थल पर विवाद की स्थिति बनी थी। जहां दो गुट आपस झगड़ पड़े। दोनों गुटों में पथराव भी हुआ था सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थिति को अंडर कंट्रोल कर लिया था इस दौरान पुलिस को 2 लोगों की कुएं में गिरने की भी सूचना मिली थी तत्काल पुलिस ने दोनों युवकों को कुएं से सुरक्षित बाहर निकाल कर उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया था। रात्रि के समय ही मतगणना को संपूर्ण किया गया था जिसके बाद फोर्स सहित मतदान कर्मी वापस लौट आए।

इस मामले में थाना प्रभारी पुनीत बायपेयी ने बताया है कि अभी दोनों घायल जिला चिकित्सालय में भर्ती है। उनकी हालत भी ठीक है। वह जिला चिकित्सालय से आ रहे है। उनके आने के बाद दोनों के बयान लेगें और पूरे मामले की जानकारी देंगे कि आखिर वह कुएं में कैसे गिरे। उसके बाद जो वह बताएंगे उसी आधार पर कार्यवाही की जाएगी।