स्वच्छता सर्वेक्षण के नाम पर CMO के घर पर लिए थे 7 हजार रुपए, 1 साल की कहकर 3 महीने में ही नौकरी से निकाल दिया- Shivpuri News

शिवपुरी।
आज मंगलवार को आयोजित जनसुनवाई में एक युवक ने स्वच्छता सर्वेक्षण कर रही कंपनी के कर्मचारीयों पर धोखाधडी कर रिश्वत बसूलने का आरोप लगाया है। युवक का आरोप है कि उसने रिश्वत सीएमओं के घर पर दी थी। साथ ही सीएमओं के घर पर ही उनका इंटरव्यू लेकर उन्हें भर्ती किया था।

जनसुनवाई में आवेदन देते हुए सुनील पुत्र बलराम शाक्य निवासी कमलागंज घोसीपुरा ने बताया कि एचएमएस कंपनी जो कि शिवपुरी जिले में स्वच्छता सर्वेक्षण का कार्य कर रही है, के अनिल गोस्वामी व पीयूष सर ने इंटरव्यू लिया था। यह इंटरव्यू सीएमओ साहब के घर पर हुआ था। नोकरी देने के नाम पर उससे 7 हजार रूपए वसूले गए और कहा कि एक साल तक तुम यह काम कर सकोगे।

लेकिन मुझे तीन माह में ही निकाल दिया गया और कह कि 2 हजार रूपए और दो तभी आगे नौकरी कर पाओगे। जब मैंने अपने दिए हुए 7 हजार रुपए वापस मांगे तो इंकार कर दिया। साहब…! मुझे मेरे रूपए वापस दिलवा दिए जाएं।