मंत्री सिसौदिया पर भड़के सांसद केपी यादव: बताया मूर्ख, बोले ऐसे लोगों को भाजपा में लेना शायद भूल है - Shivpuri News

शिवपुरी।
आज पूरे दिन भर से भाजपा के सांसद डॉ केपी यादव का बयान सुर्खियां बटौर रहा है। सांसद डॉ केपी यादव ने सांसद बनने के बाद आज पहली बार बयानों की आंधी में तगड़ा हमला बोला है। श्री सिसौदिया ने 2019 के लोकसभा चुनाव में सिंधिया की हार पर उन्होंने माफी की बात कही थी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना मुगल सम्राट अकबर से की थी।

महेन्द्र सिंह सिसौदिया के बयान को सांसद केपी यादव ने बेतुका बताया और यहां तक कहा कि वह मूर्ख हैं, जो इस तरह की बातें करते हैं। वह एक सीनियर मंत्री हैं उन्हें इस तरह की बातें नहीं करना चाहिए। उनके इस तरह के बयान को देखकर भाजपा के एक-एक कार्यकर्ता को यह लगने लगा है कि 2020 में ऐसे लोगों को बिना सोचे समझे पार्टी में लेकर गलती की गई है।

जिन्हें भाजपा की रीति नीति के बारे में नहीं पता, जिन्हें भारतीय जनता पार्टी के महापुरूषों के बारे मेेंं नहीं पता और जिन्हें हमारे देश के प्रधानमंत्री के बारे में नहीं पता कि उनकी तुलना किससे की जाए। ऐसे व्यक्तियों को भारतीय जनता पार्टी में लेना शायद हमारी गलती थी। श्री सिसौदिया द्वारा प्रधानमंत्री मोदी की तुलना अकबर से किए जाने को उन्होंने गलत बताया और कहा कि प्रधानमंत्री की तुलना शिवाजी से की जानी चाहिए थी।

पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया और सांसद केपी यादव के बीच यह विवाद इसलिए भी चर्चित है क्योंकि दोनों ही एक ही दल में हैं। सांसद केपी यादव ने 2019 के लोकसभा चुनाव में गुना शिवपुरी संसदीय क्षेत्र से ज्योतिरादित्य सिंधिया को पराजित किया था। एक जमाने में श्री यादव सिंधिया के सिपेहसालार हुआ करते थे। 2020 में सिंधिया भाजपा में आ गए और भाजपा ने उन्हें राज्यसभा सदस्य तथा केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री बनाया।

श्री सिसौदिया ने सिंधिया के समर्थन में कांग्रेस और विधायक पद से इस्तीफा दिया था और बाद में वह भाजपा प्रत्याशी के रूप में जीतकर प्रदेश सरकार में पंचायत मंत्री बने। हालांकि अब नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और सांसद केपी यादव एक ही दल भाजपा में हैं। लेकिन लगता है कि तल्खी अभी शांत नहीं हुई हैं।

सिंधिया के समर्थक उनकी हार को अभी तक भूले नहीं हैं और लोकसभा चुनाव में सिंधिया की हार पर पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया सहित उनके समर्थक कई बार माफी मांग चुके हैं। पंचायत मंत्री ने अनेक अवसरों पर कहा कि लोकसभा चुनाव में जनता से गलती हुई है। इस गलती को माफ करें। म्याना में ट्रेन स्टॉपेज कार्यक्रम, गुना में जज्जी बस स्टेंड के कार्यक्रम में भी पंचायत मंत्री ने सिंधिया से माफी मांगी थी।

प्रधानमंत्री की तुलना अकबर से करना उचित नहीं : सांसद यादव

सांसद केपी यादव ने पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना अकबर से करने को गलत बताया है। उन्होंने कहा कि एक आताताई से प्रधानमंत्री की तुलना नहीं हो सकती। जो लोग प्रधानमंत्री की अकबर से तुलना कर रहे हैं वह भाजपा की रीति नीति से परिचित नहीं है और न ही उन्हें भाजपा के महापुरुषों के बारे में कोई जानकारी है। ऐसे लोगों को पार्टी मेें लेकर शायद गलती की गई है। श्री सिसौदिया ने दो दिन पहले गुना में कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी अकबर हैं, उनके दरबार के सर्वश्रेष्ठ रत्न ज्योतिरादित्य सिंधिया हैं। श्री मोदी ने सिंधिया के रूप में गुना जिले को हीरा दिया है।

सार्वजनिक बयानबाजी कर पार्टी की छवि खराब न करें यादव : श्री सिसौदिया

सांसद केपी यादव के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया ने कहा कि उन्हें सार्वजनिक रूप से बयानबाजी कर पार्टी की छवि खराब नहीं करना चाहिए। यह पार्टी फोरम का मामला है और यदि पार्टी नेतृत्व उनसे स्पष्टीकरण मांगेगा तो वह अपनी बात रखेंगे। वैसे श्री यादव उनके छोटे भाई जैसे हैं।