SDM के ट्रांसफर को लेकर चल रही उठाफटक खत्म, रिलीव: 2 हिस्सों में बट गई थी भाजपा- Shivpuri News

शिवपुरी। चुनाव आने के के साथ ही तबादलों की राजनीति भी गरमा जाती है। पिछोर एसडीएम जेपी गुप्ता के स्थानांतरण को लेकर चल रही उठापटक शनिवार को खत्म हुई। शनिवार को एसडीएम गुप्ता को कलेक्टर ने ग्वालियर के लिए रिलीव कर दिया है। भाजपा जनपद अध्यक्ष पिछोर लोकपाल सिंह लोधी ने जेपी गुप्ता की राज्य निर्वाचन आयोग से शिकायत की थी।

राज्य निर्वाचन आयोग को पत्र लिखने के बाद कलेक्टर ने उन्हें शुक्रवार को ही रिलीव कर दिया। जेपी गुप्ता का पिछले वर्ष ही ग्वालियर स्थानांतरण हो चुका है, लेकिन कलेक्टर ने उन्हें रिलीव नहीं किया था। इस कारण वे पद पर जमे हुए थे। उन्हें हटाने के लिए भाजपा नेता कई दिनों से लगे हुए थे और 20 मई को उन्हें पिछोर एसडीएम से हटाकर शिवपुरी अटैच भी कर दिया गया था।

लोकपाल सिंह ने शिकायत की थी कि जेपी गुप्ता का स्थानांतरण 29 जून 2021 को डिप्टी कलेक्टर शिवपुरी के पद से ग्वालियर हो चुका है। इसके बाद भी उन्हें आज दिनांक तक रिलीव नहीं किया गया। वर्तमान कलेक्टर ने भी कुछ दिनों पूर्व 20 मई को गुप्ता को पिछोर से जिला में अटैच किया है, लेकिन फिर भी इन्हें रिलीव नहीं किया गया।

पिछले पंचायत चुनाव में जेपी गुप्ता ने खनियाधाना तहसीलदार रहते हुए चुनाव संपन्न कराए थे और वर्तमान शासन के निर्देशानुसार उन्हें यहां रखा जाना न्याय संगत नहीं है। यह पंचायत चुनाव को प्रभावित कर सकते हैं। इसके बाद कलेक्टर ने शुक्रवार को जेपी गुप्ता को रिलीव कर दिया है।

प्रभारी मंत्री के सामने भी उठा मुद्दा

कई दिनों से एसडीएम जेपी गुप्ता को हटाए जाने को लेकर राजनीति चल रही थी। भाजपा का एक धड़ा उन्हें हटवाना चाहता था तो दूसरा धड़ा उन्हें एसडीएम पद पर रखने के हित में था। गत दिनों प्रभारी मंत्री जब भाजपा की बैठक लेने आए तो खुलकर दोनों धड़े आमने-सामने हो गए थे। इस पर मंत्री ने कोर कमेटी की बैठक में इस पर फैसला लेने की बात कही थी।