रुक जाना नहीं परीक्षा: 10वीं और 12वीं क्लास के परीक्षार्थियों को फिर से मिलेगा मौका, पढ़िए पूरी खबर - Shivpuri News

शिवपुरी। मध्य प्रदेश राज्य ओपन बोर्ड भोपाल द्वारा आयोजित की जाने वाली रुक जाना नहीं की परीक्षा चार जून से शुरू होगी। जिलेभर के परीक्षार्थियों के लिए जिला मुख्यालय पर तीन परीक्षा केंद्र भोपाल से बनाए गए हैं। यह परीक्षा हाईस्कूल एवं हायर सेकेंडरी के उन परीक्षार्थियों के लिए भी आयोजित की जा रही है जो कि दो या दो से अधिक विषयों में बोर्ड परीक्षा में फेल हो गए हैं। जिला परीक्षा प्रभारी राजा बाबू आर्य का कहना है कि चार जून से शुरू होने वाली इस परीक्षा के आयोजन के लिए जिला शिक्षा अधिकारी संजय श्रीवास्तव द्वारा केंद्र अध्यक्षों की नियुक्ति कर दी गई है।

रुक जाना नहीं परीक्षा का आयोजन ऐसे परीक्षार्थियों को पास होने के लिए दूसरा अवसर देता है जोकि कक्षा 10 या 12 में दो या दो से अधिक विषयों में फेल हो चुके हो। परीक्षा प्रभारी के मुताबिक इस बार 1हजार 524 परीक्षार्थी रुक जाना नहीं की परीक्षा में शामिल होंगे। इस परीक्षा का आयोजन चार से 20 जून के बीच किया जा रहा है जिसमें परीक्षा का समय सुबह आठ से 11 बजे तक रखा गया है।

शहर के तीन केंद्रों पर जिले भर के विद्यार्थी देंगे परीक्षा

जिला परीक्षा प्रमुख राजा बाबू वाले ने बताया कि हर साल की तरह इस बार भी कक्षा दसवीं एवं बारहवीं के परीक्षार्थियों के लिए रुक जाना नहीं परीक्षा चार जून से जिला मुख्यालय पर आयोजित की जा रही है। इस परीक्षा के लिए शहर के शासकीय जिला उत्कृष्ट विद्यालय, शासकीय उमावि क्रमांक दो शिवपुरी एवं शासकीय कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल सदर बाजार को परीक्षा केंद्र बनाया गया है जिसमें उत्कृष्ट विद्यालय में प्राचार्य विवेक श्रीवास्तव, क्रमांक दो शिवपुरी स्कूल में प्राचार्य एमपीएस यादव तथा सदर बाजार स्कूल में प्राचार्य एनके जैन केंद्राध्यक्ष रहेंगे।

हर ब्लाक से दो परीक्षा केंद्रों का भेजा था प्रस्ताव, भोपाल से मंजूर हुए तीन

जिला शिक्षा अधिकारी संजय श्रीवास्तव का कहना है कि रुक जाना नहीं परीक्षा 2022 के लिए जिले के सभी आठ ब्लाकों से दो-दो परीक्षा केंद्रों का प्रस्ताव भोपाल भेजा गया था जिसमें 16 परीक्षा केंद्र जिले भर में बनाए जाने थे लेकिन भोपाल से सिर्फ तीन परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं जो कि सभी जिला मुख्यालय पर हैं। शहर के अंतिम परीक्षा केंद्रों पर ही जिले भर के परीक्षार्थियों की परीक्षा होगी।