तुलसी आश्रम पर धूमधाम ने मना परशुराम जन्मोत्सव, 5 मई को निकलेगी भव्य शोभायात्रा - Shivpuri News

शिवपुरी। भगवान विष्णु के छठे अवतार भगवान परशुराम जी का प्राकट्य महोत्सव अक्षय तृतीया पर तुलसी आश्रम पर बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। कल्पांत तक स्थायी रहने वाले भगवान परशुराम जी की पूजा अर्चना विधि विधान से करते हुए विप्र समाज द्वारा महाआरती की गई। तथा आयोजन के दौरान मंदिर निर्माण कार्य के लिए डाॅं. एस.के. पुराणिक द्वारा एक लाख का चैक निर्माण समिति को सौंपा गया।

अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा सनातन के जिलाध्यक्ष पं. पुरूषोत्तम कांत शर्मा एवं हरिवंश शर्मा कूढ़ाजागीर ने प्रेस को जारी विज्ञप्ति में वताया कि तुलसी आश्रम बड़े हनुमान मंदिर पर परशुराम जन्मोत्सव विधिविधान से पूजा अर्चना कर महामण्डलेश्वर श्री श्री 1008 श्री पुरूषोत्तम दास जी महाराज के आतिथ्य में महोत्सव के रूप में मनाया गया।

पूजन पं.हरकिशोर जैमिनी द्वारा संपन्न कराया गया। महोत्सव का शुभारंभ प्रातः 8 बजे भगवान परशुराम जी की पूजा अर्चना महामण्डलेश्वर पुरूषोत्तम दास जी महाराज, अपर कलेक्टर उमेश प्रकाश शुक्ला, पुरूषोत्तम कांत शर्मा, रामजी व्यास, भगवत शर्मा द्वारा कर किया गया। आगे की जानकरी में मंदिर निर्माण कमेटी अध्यक्ष अर्जुनलाल शर्मा एवं शहर अध्यक्ष डाॅ. बी.के. शर्मा, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष श्रीमती शशि पाराशर, बाल कल्याण आयोग की अध्यक्ष सुषमा पाण्डेय ने बताया कि परशुराम जन्मोत्सव के दौरान विप्र बंधुओं के माथे पर चंदन का तिलक लेप, लगाकर पुष्प वर्षा की गई।

पं.मुरारीलाल भार्गव द्वारा रचित परशुराम चालीसा का पाठ विप्र बंधुओं द्वारा सामूहिक रूप से किया गया। तथा उपस्थित सभी विप्र बंधुओं द्वारा सामूहिक रूप से महाआरती की गई। प्रसादी वितरण का कार्य रामगोपाल शर्मा एवं अखिलेश शर्मा कूढ़ा जागीर की ओर से किया गया। कार्यक्रम का संचालन महावीर मुदगल एवं प्रमोद शर्मा द्वारा किया गया।

कार्यक्रम के अंत में आभार राज कुमार सड़ैया, हरगोविन्द शर्मा, अरविन्द सरैया, पवन अवस्थी, विपिन पचैरी, राजू शर्मा द्वारा सामूहिक रूप से व्यक्त किया गया। तथा 05 मई को भगवान परशुराम जी की शोभायात्रा शांय 04 बजे परशुराम चैक फिजीकल से प्रारंभ होकर माधव चैक, न्यू ब्लाॅक, कोर्ट रोड़, अस्पताल चैराहा होते हुए तात्याटोपे समाधि स्थल से राजेश्वरी मंदिर पहुचेगी। सभी से शोभा यात्रा में शामिल होकर भव्यता प्रदान करने की अपील की गई है।

भगवान परशुराम जी के जन्मोत्सव समारोह में प्रमुख रूप से पं. भानू प्रताप सिंह शर्मा, श्रीनिवास उपाध्याय, संजय बैचेन, कैलाश दुवे, हरगोविन्द शर्मा, आर.डी.शर्मा, संतोष शर्मा, महेन्द्र गौड़, राकेश धोवनी, रामप्रकाश शर्मा, ओम प्रकाश शर्मा, विनोद मुदगल, महावीर पाराशर, माधव शरण दुवे, अजय शंकर भार्गव, दिलीप मुदगल, देवेन्द्र कन्हौआ, एश्वर्य शर्मा, आलोक शुक्ला, सुखदेव शर्मा, डाॅ.जी.पी.विरथरे, सत्यनारायण दीक्षित, राकेश विरथरे, सौरभ विरथरे, शिवकुमार शर्मा, ओ.पी.पाण्डेय, अरूण शर्मा, रघुवीर पाराशर, देवेन्द्र टेडिया, लखन अवस्थी, घनश्याम शर्मा, लक्ष्मीनारायण शर्मा, प्रदीप पार्षद, किशोर जैमिनी, बालकुष्ण शर्मा, राधावल्लभ शर्मा, महेन्द्र उपाध्याय, राजेश विहारी पाठक, उमा शंकर, कैलाश नारायण भार्गव, डाॅ. अशोक पाराशर, अमित भटेले, भारत गौतम, उत्कर्ष शुक्ला, सूर्या मित्र मण्डल,
वी.के. मिश्रा, पुरूषोत्तम तिवारी, हरकिशोर शर्मा, कैलाश नारायण मुदगल, कमलेश त्रिवेदी, सेवकराम शर्मा, प्रमोद शर्मा, राधेश्याम मुढौतिया, गिर्राज शर्मा, नरेश भार्गव, हितशरण शर्मा, विजय भारद्वाज, प्रवीश दुवे, डाॅ. धर्मेन्द्र दीक्षित, राजीव पुरोहित, कुलदीप भार्गव, राजेश मिश्रा, दिलीप त्रिवेदी, वीरेन्द्र मिश्रा, देवेन्द्र शर्मा आदि उपस्थित थे।