गांवों में प्रतिदिन 5 से 7 घंटे की बिजली कटौती, गर्मी से हाहाकार, गांवों में गहराता जल संकट - Shivpuri News

शिवपुरी।
शिवपुरी जिले के पहाडग़ढ़ क्षेत्र में 5 से 7 घंटे की बिजली कटौती होने से जंगल क्षेत्र के गांव में पेयजल संकट गहरा गया है। शुक्रवार को सुबह 10 बजे तक लाइट नहीं आने से बोर से पानी नहीं मिल पाया तथा लोगों को हैंडपंप व प्राचीन कुओं से पानी की आपूर्ति करनी पड़ी। ग्रामीणों का कहना है कि बिजली कंपनी द्वारा दिन व रात के समय दो-दो घंटे बिजली कटौती की जा रही है।

जिससे न केवल पानी की समस्या गहरा गई है, बल्कि रात को घरों में रहना मुश्किल हो रहा है। अघोषित बिजली कटौती के कारण आमजन की बात तो छोड़िए, बल्कि सरकारी अधिकारी, कर्मचारी भी परेशान हैं। क्योंकि लाइट जाने पर सरकारी कार्यालयों का कामकाज प्रभावित हो जाता है तथा दूरस्थ क्षेत्र से आने वाले ग्रामीणों के कामकाज नहीं होते। क्योंकि अधिकांश सरकारी कामकाज इंटरनेट पर ऑनलाइन निर्धारित है। लाइट जाने पर जनपद कार्यालय, बीईओ ऑफिस, टप्पा तहसील कार्यालय में कर्मचारियों को 3 से 4 घंटे लाइट आने का इंतजार करना पड़ रहा है।