सरकारी स्कूलों के बच्चे कूनो अभ्यारण की रोमांचकारी यात्रा से लौटे, सीखा- जिंदगी के लिए जानवर कितने जरूरी- Pohri News

पोहरी। मप्र शासन द्वारा स्कूली बच्चों को वन्य जीवन के विषय में जानकारी देने, उनके मन में वन एवं वन्य जीवों के प्रति लगाव पैदा करने के उद्देश्य से प्रारंभ किया गया अनुभूति कार्यक्रम के तहत वन परिक्षेत्र पोहरी के अंतर्गत आने वाले शासकीय विद्यालयों के बच्चों को कूनो राष्ट्रीय उद्यान का भ्रमण कराया गया, वहां भ्रमण कर लौटे बच्चों के चेहरे पर खुशी तथा रोमांच स्पष्ट दिखाई दिया।

पोहरी वन परिक्षेत्राधिकारी कृष्णपाल सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि पोहरी क्षेत्र के आसपास के शासकीय विद्यालयों पोहरी, भटनागर, बैराड़, गोवर्धन, गाजीगढ़ तथा देवपुरा के माध्यमिक स्तर के बच्चों को बसों के माध्यम से कूनो राष्ट्रीय उद्यान का भ्रमण अनुभूति कार्यक्रम के तहत करा गया, जहां बच्चों को वन्य जीवन के विषय में जानकारी देते हुए मुख्य वन संरक्षक ने बताया कि वन एवं वन्य प्राणियों का प्रकृति के संतुलन में विशेष योगदान रहता हैं।

यदि वन नहीं होंगे तो मानव जीवन भी संकट में पड़ जायेगा, इनका संरक्षण अति आवश्यक है। स्कूली बच्चों ने जब नजदीक से वन एवं वन्य प्राणियों को देखा तो वह भी रोमांचित होकर और अधिक जिज्ञासा के साथ सवाल पूछने लगे उनके सवालों का जवाब वहां उपस्थित वन कर्मियों द्वारा दिया गया। इस अवसर पर भ्रमण के पश्चात बच्चों से सामान्य प्रश्नोत्तरी का भी आयोजन किया गया एवं उन्हे पुरस्कारों का वितरण  भी उपस्थित अधिकारियों द्वारा किया गया।

इस अवसर पर मुख्य वन संरक्षक शिवपुरी डीके पालीवाल, कृष्णपाल सिंह धाकड़ वन परिक्षेत्र अधिकारी पोहरी, आबकारी अधिकारी शिवपुरी वीरेंद्र सिंह, वन परिक्षेत्राधिकारी कूनो पूर्व के एस धाकड़ उपस्थित रहे।