महिला आरक्षक का पति पहुंचा जनसुनवाई में बोला: पत्नी ने फर्जी दस्तावेज के जरिए पाई नौकरी, मुझे भी करती है प्रताड़ित - Shivpuri News

NEWS ROOM
शिवपुरी।
खबर सीधे जनसुनवाई से आ रही है। आज जनसुनवाई में अपनी पत्नी के द्वारा प्रताड़ित किये जाने वाले एक युवक की है। कि साहब मेरी पत्नी ने फर्जी दस्तावेजों के जरिए पुलिस में नौकरी प्राप्त की है नौकरी लगते ही उसने मुझे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया और बच्चे सहित मुझे घर से निकाल दिया। इसलिए अब मैं अपनी फरियाद लेकर आया हूं।

जानकारी के अनुसार मनोज ने बताया कि उसकी शादी प्रीति के साथ हुई थी शादी के बाद प्रीति ने कार्यालय भौमिक तथा खनिकर्म द्वारा निकाली गई सिपाही की भर्ती पर परीक्षा दी थी जिसमें प्रीति ने परीक्षा पास कर नौकरी हासिल की। नौकरी मिलने के बाद प्रीति के प्रथम नियुक्ति अशोकनगर जिले की खनिज शाखा में हुई थी यहां हम अपने बच्चे के साथ रहने लगे। इसके बाद प्रीति का ट्रांसफर शिवपुरी जिले में हो गया।

शिवपुरी में आने के बाद प्रीति का व्यवहार एकदम बदल गया और वह आए दिन मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित करने लगी। एक दिन प्रीति ने मुझे और मेरे बच्चे को घर से निकाल दिया और कहा कि दोबारा वापस मत आना। मनोज ने बताया कि उसकी पत्नी का किसी दूसरे व्यक्ति के साथ चक्कर चल रहा है ऐसी उसे शंका है। मनोज ने बताया कि उसकी पत्नी ने फर्जी दस्तावेज व शपथ पत्र के जरिए इस नौकरी को हासिल किया है।

प्रीति ने नौकरी पाने के लिए झूठ बोला कि उसकी शादी 30 दिसंबर 2008 को हुई है जबकि वास्तविक रूप से उसकी शादी 11 जून 2003 में हुई है। प्रति पुत्र का जन्म 22 मई 2010 में होना बताया है जबकि वास्तविक रूप से उत्तर का जन्म 2005 में हुआ है इसलिए फाइल की जांच करा कर प्रीति को पद से पृथक किया जाए और उसके खिलाफ कार्रवाई की जाए।
G-W2F7VGPV5M