जिले में 4 मौत: फोरलेन पर बने वन-वे पर कमला बस को कंटेनर ने ठोका, 3 गंभीर घायल- Shivpuri News

शिवपुरी। पिछले 24 घंटे में दुर्घटना में 4 लोगों की मौत होने की खबर आ रही हैं। जिले में 2 एक्सीडेंट लापरवाही के कारण हुए हैं जिसमें एक ड्राइवर की मौत हो गई। वही जिले में दो लोगों की मौत करंट लगने के कारण हुई हैं। माता पिता की लापरवाही के कारण शहर में 3 साल के मासूम की पानी के टैंक में डूबने से मौत हो गई।

सुभाषपुरा थाना:कमला बस को कंटेनर ने उडाया

सोमवार की देर रात लगभग 9 बजे मुडखेड़ा टोल प्लाजा के नजदीक‎ अमर नदी पर मरम्मत कार्य के चलते‎ शिवपुरी की ओर फोरलेन हाइवे को‎ वन-वे किया गया है। गुना की ओर से‎ आ रहे कंटेनर क्रमांक एचआर55‎ ‎‎एफ8551 ने सेवा सूत्र की कमला बस में कट मार दी।‎ हादसे में गंभीर दीक्षा लोधी उम्र 19 साल‎ निवासी नयागांव पिछोर, मोहिनी जैन‎ उम्र 16 साल, संस्कृति भार्गव निवासी‎ नलगर चौराहा शिवपुरी को गंभीर‎ हालत के चलते जिला अस्पताल‎ शिवपुरी भर्ती कराया है।

शव छोडने गई एंबूलेंस को अज्ञात वाहन ने उडाया:चालक की मौत

वही सुभाषपुरा थाना अतंर्गत जहां कमला बस का एक्सीडेंट हुआ था उसी जगह इस बस दुर्घटना के चंद मिनिटो बाद ही एक अज्ञात वाहन ने एंबूलेंस को उडा दिया। एंबुलेंस यूपी‎ के हरदुई में शव छोड़ने गई थी। हादसे में‎ चालक अनिल बरडे की मौत हो गई‎ है, जबकि राहुल उम्र 29 साल पुत्र मचिंदर‎ गोरे निवास शिरडी घायल है।

बैराड थाना:शाह की कंरट से मौत

जानकारी के अनुसार गुलशेर शाह‎ ‎ उम्र 47 साल पुत्र दिलदार शाह निवासी‎ माता का बीलबरा 6 फरवरी की शाम‎ 4 बजे को घर की छत पर बनी‎ बाउंड्रीवाल पर चढ़कर लाइट सही‎ कर रहे थे, अचानक पिता को करंट‎ लगा और जमीन पर गिर गए। सिर में‎ गंभीर चोट आने से गुलशेर शाह की‎ मौके पर ही मौत हो गई। फरियादी‎ सरूप खान उम्र 27 साल पुत्र गुलशेर शाह‎ की सूचना पर बैराड़ थाना पुलिस ने‎ मर्ग कायम कर लिया है।‎


पिछोर:फसल में पानी देते समय करंट से युवक की मौत‎

शिवम (19) पुत्र देवलाल‎ लोधी निवासी ग्राम रूपनवारा सोमवार‎ की दोपहर 3 बजे गेहूं की फसल में‎ सिंचाई कर रहा था। ट्रांसफार्मर से‎ मोटर तक आया तार बीच में से‎ टूटकर खेत में गिर गया। इसकी चपेट‎ में आने से शिवम झुलस गया। परिजन‎ इलाज कराने पिछोर अस्पताल ले गए,‎ जहां उसकी मौत हो गई है।‎

कोतवाली: मासूम दिव्यांश की लापरवाही से मौत

बैंक कॉलोनी में रहने वाले रवि सेन और उनकी पत्नी घर पर ही थे सुबह 9 बजे नल आए तो उन्होंने नल चालू किया और लेजम घर के आंगन में बने पानी के टैंक में लगा दी। जब पानी का टैंक भर गया तो पति पत्नी दोनों लेजम को छत पर बनी टंकी ले लगाने चले गए और टैंक का ढक्कन खुला छोड़ गए।

बताया जा रहा है कि रवि सैन का 3 वर्षीय बेटा दिव्यांश घर पर ही खेल रहा था और खेलते खेलते पानी के टैंक में गिर गया। जब पति पत्नी वापस छत से नीचे उतरे तो दिव्यांश नहीं दिखा उन्होने बहार कॉलोनी में तलाशना शुरू कर दिया। बताया जा रहा हैं रवि को ध्यान नही आया कि पानी के टैंक का ढक्कन खुला था। जब रवि ने जाकर देखा तो दिव्यांश की लाश उसमें तैरती मिली।