राजकीय सम्मान के साथ पिछोर में हुआ लक्ष्मीनारायण गुप्ता नन्नाजी का अंतिम संस्कार- Shivpuri News

शिवपुरी। मध्यप्रदेश की प्रथम विधानसभा के सदस्य रहे 104 वर्षीय लक्ष्मीनारायण गुप्ता नन्ना का बुधवार को उनकी झांसी स्थित निवास पर बीमारी के चलते निधन हो गया। उनके निधन पर प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह सहित अनेक नेता, समाजसेवी, प्रबुद्धजनों ने शोकसंवेदना व्यक्त की। नन्नाजी का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ आज पिछोर में किया गया।

शासन ने पिछोर में उनकी स्मृति में पार्क निर्मित कर प्रतिमा स्थापना का निर्णय लिया है। 1993 में लक्ष्मीनारायण गुप्ता को पराजित कर पिछोर से विधायक बने केपी सिंह कक्काजू ने आज उनके निधन पर कहा कि यह मेरी निजी क्षति है क्योंकि मैंने सार्वजनिक जीवन की बारीकियां उनसे ही सीखी है।

पूर्व मंत्री केपी सिंह ने कहा कि सार्वजनिक जीवन में बेदाग होकर जीना कोई नन्ना से ही सीख सकता है,उनका जीवन एक खुली किताब की तरह रहा,मैं अक्सर उनसे मिलने जाता था और लौटकर यही धारण करने की कोशिश करता कि पद,प्रतिष्ठा कभी भी इंसान के ऊपर नही होनीं चाहिये । वे जीवन भर पिछोर की तंग गली के मकान में रहते रहे यह एक सन्देश है।

आजकल के नेताओं के लिए की जिस जनता ने उन पर भरोसा जताया वह उसके बीच आजन्म बने रहे,चाहते तो भोपाल औऱ झांसी में आराम का जीवन जी सकते थे। केपी सिंह ने कहा कि मैं सौभाग्यशाली हूँ कि नन्ना ने सक्रिय राजनीति में रहकर क्षेत्र के विकास का जो सपना देखा था उसे पूरा करने का अवसर मुझे मिला है।नन्ना का जाना राजनीति में मूल्यों,शुचिता औऱ जबाबदेही की विरासत की अपूर्णीय क्षति है।