अजय राज सक्सेना: समाजसेवा के लिए पत्रकार नहीं बना, कई थानों में शिकायतें दर्ज हैं - Shivpuri City News

Ex-Rey @ ललित मुदगल। पत्रकार खबर बनाते हैं परंतु आज शिवपुरी में एक पत्रकार खुद खबर बन गया। स्वाभाविक तौर पर यह मामला शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है। कहा तो यह भी जा रहा है कि कोलारस सहकारी बैंक घोटाले में मुख्य आरोपी राकेश पाराशर ने पुलिस को दिए अपने बयान में कुछ पत्रकारों को भी हिस्सा देने की बात बताई थी। 

कहा जा रहा है कि शिवपुरी के कुछ धुरंधर पत्रकार कोलारस सरकारी बैंक घोटाले के हिस्सेदार हैं। राकेश पाराशर के अकाउंट से इन पत्रकारों के खातों में मनी ट्रांसफर के रिकॉर्ड मिले हैं। इसमें कोलारस के दो और शिवपुरी शहर के तीन पत्रकारों के नाम लिए जा रहे हैं। सफाई में यह भी कहा जा रहा है कि राकेश पाराशर के अकाउंट से मिला पैसा विज्ञापनों का है परंतु सवाल यह है कि विज्ञापन का भुगतान संस्था से संस्था को होता है। अधिकारी के खाते से पत्रकार के खाते में नहीं किया जाता। 

लुकवासा चौकी में भी आया था इस प्रकार का आवेदन

तथाकथित पत्रकार अजय राज सक्सेना के नाम का आवेदन कुछ माह पूर्व लुकवासा चौकी में श्रीलाल जाटव पुत्र बच्चू राम जाटव निवासी गणेशपुरा ग्राम लुकवासा के द्वारा दिया गया था। 9 दिसंबर 2021 को दिए गए इस आवेदन के अनुसार प्रार्थी ने कहा कि मैने एक हीरो की मोटरसाइकिल फाइनेंस कराकर अपने बेटे के लिए खरीदी। इसकी लगातार किस्त भर रहा था।

कोरोना काल में आर्थिक तंगी और मेरी पत्नि के कोरोना पॉजिटिव होने के कारण कुछ किस्त समय पर नही भर सका। इस कारण मेरे घर पर अजय राज सक्सेना आया और मेरी बाइक छीनने का प्रयास किया, मेरी पत्नि गीता बाई जाटव और पत्नि और दो बेटी यशोधरा, प्रियंका घर पर अकेले थे इस कारण उन्होने विरोध किया इस पर अजयराज और इनके साथियो ने उनके साथ अभद्रता की और जातिसूचक गालिया दी। श्रीमान से निवेदन है कि उक्त डंडा बैंक कर्मियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाए।  

कोलारस थाने में भी दिया गया हैं बाइक लूट का आवेदन

ऐसा ही एक और आवेदन अजय राज सक्सैना के खिलाफ कोलारस थाने मेे दिया गया हैं इस आवेदन में फरियादी हैं बनवारी जाटव पुत्र श्री हरज्ञान जाटव निवासी पराई की पोर कोलारस हैं इस आवेदन के अनुसार आवेदक ने बाइक हीरो फाइनेंस कंपनी से कराई किस्त बाउंस होने के कारण अजय राज सक्सेना की चंडाल चौकडी बाइक ने 12 दिसंबर को मेरी बाईक छीन लीं

इससे पूर्व भ्रष्टाचार से भरा वीडियो हुआ था वायरल

इससे पूर्व भी तथाकथित पत्रकार अजय राज सक्सैना का एक स्कूल संचालक से जबरन वसूली करने का वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमें काफी सुर्खियां बटोरी थी। देहात थाने में कोचिंग संचालक ने भी एक आवेदन दिया था। इस आवेदन में कोचिंग संचालक पर दबाव बनाकर पैसा वसूलने का प्रयास किया गया था। सड़क से बाइक छीनने के आधा दर्जन आवेदन अजय राज सक्सैना के खिलाफ पुलिस को जिले के विभिन्न थानों में आए हैं जिन पर जांच चल रही हैं,इसी प्रकार के कई ओर मामले इस चिंदी चोर के खिलाफ मामले दर्ज हो सकते हैं।

एसडीएम पब्लिक स्कूल के संचालक का पुत्र हैं अजयराज

तथाकथित पत्रकार अजय राज सक्सैना शिवपुरी के प्रसिद्ध स्कूल एसडीएम पब्लिक स्कूल के संचालक के बेटे हैं। अजय राज सक्सेना के पीडीएस माफियाओं के साथ भी संबंध बनाए जा रहे हैं। सिद्धि विनायक के भ्रूण हत्या के मामले में आरोपी बनाए एक एक आरोपी से पूछताछ के समय अजयराज का नाम सामने आया था। कोतवाली पुलिस ने इस संबंध भी अजयराज से पूछताछ भी की थी।

इनका कहना
यह पूरी कंपनी वाहनों के फायनेंस के बाद किस्त जमा नहीं होने पर गाडियों को सीलिंग का काम करते थे। हमने इनके मालिक के खिलाफ हमने मामला दर्ज किया है। इसके कई आवेदन हमारे वरिष्ठ अधिकारियों के पास आए थे। जिसके चलते जांच के बाद यह मामला दर्ज किया गया है।
कोतवाली टीआई सुनील खेमरिया