31 लाख रूपए का टमाटर खरीदकर बिना भुगतान किए भाग गया बदायूं का व्यापारी, FIR- Pohri News

पोहरी।
जिले के पोहरी थाने में उत्तरप्रदेश के बदायूं जिले के ककराला गांव के दो टमाटर व्यापारियों फरहान खान एवं नवी अहमद के विरूद्ध धोखाधड़ी और गवन का मामला दर्ज किया गया है। फरियादी नीलम वर्मा पुत्र बालकृष्ण वर्मा निवासी ग्राम नानोरा के आवेदन पर यह कायमी की गई है। दोनों आरोपियों ने फरियादी नीलम वर्मा के माध्यम से 58 लाख 50 हजार रूपए के टमाटर खरीदकर ट्रकों को लोड कर बदायूं पहुंचा दिया। इनमें से आरोपियों ने किसानों के खाते में सिर्फ 27 लाख रूपए ट्रांसफर किए। शेष 31 लाख 50 हजार रूपए और फरियादी की दलाली के 50 हजार रूपए दिए बिना दोनों आरोपी शिवपुरी से भाग गए हैं।

फरियादी नीलम वर्मा ने बताया कि वह पिछले 10-12 वर्षो से टमाटर विक्रय करने की दलाली कर रहा है। इस वर्ष टमाटर व्यापारी फरहान खान पुत्र रिहान खान और नवी अहमद पुत्र बली अहमद निवासी ककराला ने 10 नबंवर को उससे टमाटर खरीदने के लिए पोहरी में सम्पर्क किया। दोनों व्यापारी संस्कार होटल शिवपुरी में ठहरे थे। उनसे तय हुए समझोते के अनुसार प्रार्थी नीलम वर्मा ने 14 नबंवर से 22 नबंवर 2021 तक नानोरा पोहरी तथा शिवपुरी क्षेत्र के किसानों से टमाटर आरोपीगणों को खरीदवाए। जिनकी कीमत 58 लाख 50 हजार रूपए थी।

जिनमें से आरोपीगण ने 27 लाख रूपए किसानों के खाते में ट्रांसफर कर दिए तथा शेष 31 लाख 50 हजार रूपए देने के लिए वह तरह-तरह के बहाने बनाते रहे। फरियादी ने कई बार शिवपुरी में संस्कार होटल में उनसे सम्पर्क किया, तो वह बोले शीघ्र भुगतान हो जाएगा। तुम्हारी दलाली के रूपए भी तुम्हें दे देंगे। इसके बाद वह दोनों व्यक्तियों से शेष रूपए मांगने संस्कार होटल गया तो वह बोले कि हमारे पास तीन ट्रक और आ गए हैं, इसमें टमाटर लोड करवा दो।

इसका तथा पिछला बकाया का भुगतान आज ही कर देंगे। इस पर फरियादी ने विश्वास कर एक ट्रक नानोरा तथा दो ट्रक रायचंद्रखेडी पहुंचवाए और बाद में टमाटर वाले कृषकों से बातचीत की तो उन्होंने साफ कहा कि जब तक हमारा पिछला भुगतान नहीं मिलेगा, तब तक हम ट्रक में टमाटर लोड नहीं करेंगे।

यह बात जब फरियादी ने व्यापारियों को बताई तो वह बोले की हम पोहरी आकर तुमसे बात करते हैं। किंतु जब वह पोहरी नहीं आए तो फरियादी उनसे मिलने गया, तो वह होटल खाली करके चले गए हैं। फोन पर बात करने का प्रयास किया तो उनका फोन लगातार स्विच ऑफ आ रहा है।

इन किसानों को लगा चूना

फरियादी नीलम वर्मा ने बताया कि आरोपियों से कृषक उपनिवेश जाट निवासी रूहानी को 6 लाख 40 हजार रूपए, अखयराज रावत निवासी रायचंदखेडी को 3 लाख रूपए, पदम रावत निवासी रायचंदखेडी को ढ़ाई लाख रूपए, मेजर सिक्ख निवासी सलैया को 2 लाख 38 हजार रूपए, बाइसराम धाकड़ निवासी नानोरा को 1 लाख 20 हजार रूपए, कोमल प्रसाद धाकड़ निवासी नानोरा को 2 लाख 40 हजार रूपए, सुनील धाकड़ निवासी सेवाखेड़ी को 2 लाख रूपए, नीलम वर्मा को 2 लाख रूपए तथा दलाली के 50 हजार रूपए एवं अन्य किसानों के फुटकर 6 लाख 50 हजार रूपए लेना बकाया हैं।