छर्च में डेंगू से हाहाकार: शिकायतों के बाद भी नहीं आज तक नहीं पहुंच सकी टीम, आधा सैंडका के लगभग पीडित- Pohri News

पोहरी। खबर जिले के पोहरी अनुविभाग के छर्च क्षेत्र से आ रही है। यह क्षेत्र पोहरी विधानसभा का सबसे ज्यादा पिछडा हुआ क्षेत्र माना जाता है। परंतु यह इतना पिछडा हुआ है इसकी बानगी यहां देखने को मिल रही है। बैसे तो पोहरी क्षेत्र को इन दिनों राज्यमंत्री राठखेडा मिले है। परंतु राठखेडा का विधानसभा क्षेत्र होने के बाद भी यहां के ग्रामीण बीते डेढ माह से डेंगू की मार झेल रहे है। हालात यह है कि पूरे गांव में शायद ही ऐसा कोई घर होगा जिसमें डेंगू पीडित नहीं हुए होगे।

ऐसा नहीं है कि इस मामले की सूचना जिम्मदारों को नहीं है। बल्कि इस संबंध में ग्रामीण सीएमएचओं तक से इस मामले की शिकायत तक कर चुके है। हालात यह है कि यहां अभी तक टीम का पहुंचना तो दूर यहां मच्छरों को मारने की दबाई का झिडकाब भी पोहरी प्रशासन नहीं करा सका है।

छर्च निवासी बंटी शर्मा ने बताया है कि उनके गांव में डेंगू से हाहाकार मचा हुआ है। पूरे गांव में अब तक लगभग 50 लोगों की तो डेंगू की रिपोर्ट तक पॉजीटिव आ गई है। वह दीपावली के पहले से ही शिवपुरी के प्रायवेट अस्पताल में झूझ रहे है। दीपावली के त्यौहार से लगातार उनके घर में कोई न कोई डेंगू की चपेट में आता रहा है। जिसे लेकर वह लगातार घर बालों के साथ में शहर के सुखदेव हॉस्पीटल में इलाज करा रहे है।

बंटी शर्मा ने बताया है कि वह इस संबंध में जिम्मेदारों से कई बार शिकायत कर चुके परंतु यहां सुनना तो बेकार कोई देखने तक नहीं पहुंचा है। गांव के कई लोग तो झौलाछाप को कुछ प्रायवेट अस्पताल तो कुछ निजी अस्पतालों में इलाज करा रहे है। इसके साथ ही कई गंभीर तो ग्वालियर तक में इलाज करा चुके।

इनका कहना है
यह मामला मेरे संज्ञान में आज ही आया है। अगर आप बोल रहे हो तो में तत्काल वीएमओं को बोलता हूं। जिससे वह टीम लेकर रवाना हो सके।
राजन नाडिया,एसडीएम कोलारस।