फर्जी दस्तावेज के आधार पर दी गई आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की नियुक्ति: शिकायत के बाद भी कार्यवाही नहीं- Shivpuri News

शिवपुरी। आज जनसुनवाई मे कलेक्ट्रेट पहुंची महिला ने बताया की उसके ग्राम मे आगनबाडी सहायिका के पद पर भर्ती निकली थी जिसके लिए मैने भी आवेदन भरा था और मै पात्र थी लेकिन मुझे पात्रता के आधार पर नौकरी न दे कर किसी और महिला को उसके फर्जी दस्तावेज के आधार पर नियुक्ति दे दी गई है।

जनसुनवाई मे आई ग्राम महोबा डामरोन तहसील पिछोर निवासी सुनीता जाटव पत्नि स्व. रामप्रकाश जाटव ने बताया की वह विधवा है और मजदूरी कर अपना भरण पोषण करती है। कुछ समय पहले ग्राम मे आगनबाडी सहायिका के पद भर्ती निकली थी जिस पर मैने आवेदन किया था पर मेरी योग्यता को दरकिनार कर किसी अन्य महिला को नियुक्ती दे दी गई। सुनीता ने बताया की उक्त महिला ने आवेदन के साथ जाति प्रमाण पत्र नही लगाया था लेकिन उसे उसके नम्बर दिये गए हैं। जबकी प्रार्थी को आशा प्रशीक्षण के नम्बर नही दिये गए।

प्रार्थी ने कलेक्ट्रेट मे दिये आवेदन मे बताया की अब उक्त महिला नियुक्ति के बाद अपना जाति प्रमाण पत्र लगाना चाहती है। उसके जाति प्रमाण पत्र को स्वीकार नही किया जाए और महिला के सारे दस्तावेजों की एक बार पून: जांच की जाए साथ ही नियुक्ति पर रोक लगा दी जाए और जांच के बाद योग्य उम्मीदवार को ही नियुक्ति दी जाए।