बाढ के साथ बह कर आ गए सांप: पानी तो चला गया सांप नही गए, रोज निकलते हैं, ग्रामीण दहशत में- Shivpuri News

शिवपुरी। बाढ संकट में लोगो का सबकुछ बह गया लेकिन बाढ में पानी बह कर आया था वह तो बह कर चला गया लेकिन पानी के साथ जो आया था वह बापस नही गया। उससे गांव में संकट उत्पन्न हो गया। इस संकट के कारण 2 लोगो की मौत भी हो चुकी है। दरअसल बाढ के पानी के साथ बह कर आए वापस नही लौटे अब इस गांव में प्रतिदिन सांप निकलने की घटना सामने आ रही हैं।

शिवपुरी जिले के काेलारस इलाके में आनंदपुर नाम का गांव चर्चा का विषय बना हुआ है। अगस्त 2021 में जब बाढ़ आई ताे इस गांव में भी पानी भर गया था। इस बाढ़ में लाेगाें काे आर्थिक रूप से खासा नुकसान भी हुआ था। बाढ़ के बाद अब यहां पर सांपाें का संकट खड़ा हाे गया है। दरअसल बाढ़ के बाद से गांव के हर घर में सांप निकलना शुरू हाे गए हैं।

डेढ़ माह में 20 से अधिक मकानाें में सांप निकल चुके हैं। बताया जाता है कि जब बाढ़ का पानी भरा ताे उसके साथ ही बहकर सांप भी घराें में पहुंच गए। पानी ताे उतर गया, लेकिन सांप घराें में ही रह गए। अब पानी उतरने के बाद आए दिन घराें में सांप निकलते रहते हैं। हालत यह है कि लाेगाें काे रात में घर में साेने में भी डर लगता है, क्याेंकि पता नहीं कहां से सांप निकल आए। गांव में काेई सपेरा भी नहीं है, इसलिए सांप पकड़ने के लिए अशाेक नगर जिले से एक्सपर्ट काे बुलाना पड़ता है।

घराें में सांप निकलने से लाेग खासे दहशत में है। छाेटे बच्चाें काे ताे घर में अकेला छाेड़ना मुश्किल हाे गया है। लाेगाें काे डर लगा रहता है कि कहीं सांप निकल आया ताे बच्चे की जान काे खतरा हाे सकता है। खास बात यह है कि इलाके में सांप के काटने से एक बच्चे की माैत भी हाे चुकी है।