स्वच्छता सर्वेक्षण में 94 वें नंबर पर आया शिवपुरी, पिछले साल से 7 पायदान का उछाल- Shivpuri News

शिवपुरी। बीते रोज भारत में स्वच्छ भारत अभियान के तहत घोषित हुए नतीजों में इंदौर ने पूरे भारत में स्वच्छता सर्वेक्षण में लगातार पांचवी बार अपना परचम लहराया है। इसके साथ पूरे देश में छत्तीसगढ सबसे स्वच्छ राज्य घोषित हुआ है। इसी के चलते आज स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के नतीजे जारी हुए। जिसमें 1 लाख से ज्यादा आबादी वाले 382 शहरों में शिवपुरी 94 वीं रैंक हासिल की है। वर्ष 2020 के नतीजों की बात करें तो शिवपुरी पिछले वर्ष 101 वीं रैंक पर था।

शिवपुरी शहर में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के लिए नगर पालिका द्वारा गाड़ियां लगाईं हैं। जिससे शहर के अधिकतर लोग अब घरों के बाहर कचरा फेंकने की बजाय गाड़ियों में डालते हैं। इस आदत को लगातार जारी रखना होगा और शहर को साफ सुथरा बनाने के लिए सभी का योगदान देना होगा। तभी शिवपुरी शहर स्वच्छ शहरों की श्रेणी में ऊंचे पायदान पर पहुंच सकता है।


नगर पालिका के सीएमओ शैलेन्द्र अवस्थी का कहना है कि लोगों की मेहनत का परिणाम है जो रैंक में सुधार हुआ। आगे से इस रैंक को और सुधारने के लिए लोगों को जागरूक करेंगें। अभी भी लोगों में जागरूकता की आवश्यकता है।

2017 में 228वीं , 2018 में 185वीं, 2019 में 82वीं रैंक

स्वच्छ सर्वेक्षण की शुरुआत साल 2016 में हुई थी। तब शिवपुरी नगर पालिका को शामिल नहीं किया गया था। अगले साल 2017 से शिवपुरी शहर स्वच्छ सर्वेक्षण की दौड़ में शामिल हुआ और पहले साल 228वीं रैंक हासिल की। इसके बाद साल 2018 में सुधार हुआ और 185वीं रैंक आई। साल 2019 में नगर पालिका ने ट्रेंचिंग ग्राउंड तैयार करने से लेकर साफ सफाई पर ज्यादा ध्यान दिया। काफी सुधार आने पर 82वीं रैंक हासिल की। इसके बाद 2020 में फिर गिरावट के साथ यह रैंकिंग 101 पर पहुंच गई। उसके बाद अब जो रिजल्ट आया है उसमें फिर से 94 पी रैंक हासिल की है।