DAP की कालाबाजारी,1200 का डीएपी 1700 में बिक रहा है,माफिया सक्रिय - Shivpuri News

शिवपुरी। जिले में बारिश के बाद से डीएपी खाद के लिए हाहाकार मच गया है। जिले में खाद की आपूर्ति होने के बाद भी जिले भर में डीएपी को ब्यापारी ब्लैक कर है। एक तरफ तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खाद माफियाओं को कालाबाजारी करते पकडे जाने पर राशुका का आदेश जारी कर चुके है। परंतु जिले में हालात यह है कि सोसाईटीयों पर खाद नहीं पहुंचने से किसान यह खाद ब्लैक में खरीद रहे है।

जानकारी के अनुसार जिले के कोलारस में सोसाईटीयों पर खाद नहीं पहुंचने का समाचार भोपाल समाचार ने प्रमुखता से उठाया था। उसके बाद सहकारिता विभाग हरकत में आया और प्रशासन ने डिफॉल्टर सोसाईटीयों को छोडकर अन्य सोसाईटीयों को खाद के लिए आरओ जारी करने का आदेश दिया। लेकिन यह आदेश महज खाना पूर्ति तक सिमट कर रह गया।

जिन सोसाईटी प्रबंधकों का खाद के आरओ दिए गए है उन्होंने बताया कि डीएपी एवं यूरिया खाद के आरओ न देते हुए एनपीए खाद के आरओ जारी किए है। क्योंकि कोलारस के मंडी स्थिति मार्कफेड के गोदाम में केवल एनपीए खाद का ही भंडार है। ऐसे में किसानों को संभालना मुश्किल है। जिसके चलते शहर के व्यापारी इस खाद की कालाबाजारी में जुट गए।

हालात यह है कि इन व्यापारीयों ने लाईंसेंसी दुकान से 1200 में खाद खरीद कर इसे किसानों को 1700 में ब्लैक में बेच रहे है। अब चारों और से किसानों का मरना तय है। बताया गया है कि कोलारस में सहकारिता विभाग 6 सोसाईटीयों पर खाद होने का दाबा किया है। परंतु हालात यह है यहां खुलेआम किसानों को लूटा जा रहा है।

नकली खाद गिरोह सक्रिय
जिले में खाद की काराबाजारी के बीच अब कोलारस क्षेत्र में नकली खाद के बिक्रेता गिरोह सक्रिय हो गए। जो किसानो को ब्लैक की रेट पर नकली खाद थमा रहे है।