फूड विभाग की छापामार कार्यवाही: सिर्फ ठेले और छोटे दुकानदारों के भरे जा रहे हैं सैंपल - Bairad News

बैराड़। बैराड़ नगर में दीवाली व अन्य त्योहारों से कुछ दिन पहले फूड विभाग की फूड इंस्पेक्टर कविता सक्सेना ने खाद्य पदार्थो के सैंपलों में सक्रियता दिखानी शुरू कर दी है। धनतेरस व दीपावाली अब कुछ दिन शेष हैं। खाद्य पदार्थों के सामान की बिक्री व खरीदारी भी तेजी से बढ़ रही है।

इस स्थिति में बाजार में मिलावटी खाद्य पदार्थ की बिक्री कर मोटा मुनाफा कमाने वाले भी सक्रिय हो गए है। वहीं। ऐसे में फूड विभाग की तरफ से खाद्य पदार्थों के सैंपल भरने के मामले में स्थिति यह है कि सभी सैंपल लैब में जांच के लिए भेजे जाएंगे व इसमें रिपोर्ट आने में कम से कम 20 से 30 दिन का समय लगता है। जब तक रिपोर्ट आऐगी बाजारों में मिठाईयां व दूसरे खाद्य पदार्थ के सामान बिक चुके होंगे।

इस स्थिति में लोगों की सेहत से होने वाले खिलवाड़ को रोकने की जिम्मेवारी जिला फूड विभाग की मुहिम पर कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं। इसमें विभाग की लेटलतीफी व लापरवाही आम लोगों पर भारी पड़ सकती है।

फूड विभाग पिछले एक माह से चुप्पी साधकर बैठा रहा व अब जब फेस्टिवल शुरू हो गए है तो खानापूर्ति के लिए पिछले कुछ दिनों से बाजारों में टीम के द्वारा चेकिंग की जा रही है। इस दौरान कुछ स्थानों पर फूड विभाग की फूड इंस्पेक्टर कविता सक्सेना द्वारा सैंपलिग भी की गई है।

लेकिन इसमें ज्यादातर दुकाने ऐसी है जोकि बड़ा आर्डर व सप्लाई नहीं देती है। वहीं बड़े दुकानों के सैंपेलिग तो बिल्कुल भी नहीं की गई है। आज फूड विभाग की टीम ने बैराड़ के बाजार में चेकिंग की। इस दौरान बाजार में स्थित बड़ी कुछ छोटी-छोटी दूध डेयरी,हलवाई की दुकानों पर केवल चेकिंग एवं सैंपलों के नाम पर खानापूर्ति की और चली गई।