महुआखेड़ा के गुर्जरों के खिलाफ SC-ST ACT का मामला दर्ज - Pichhore News

पिछोर
। खबर जिले के पिछोर अनुविभाग के मायापुर थान अंतर्गत आने वाले गांव राजौर (महुआखेड़ा) से आ रही है। दो दलित युवकों ने जसवंत, कलीराम, राम रथ और बृजमोहन (सभी गुर्जर) के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने चारों के खिलाफ आईपीसी की धारा 294, 232, 506, 34 और एससी-एसटी एक्ट की धारा 3 (2) (व्हीए), 3(1) (ई), 3(1) (द), 3(1) (घ) के तहत FIR दर्ज की है। 

शिकायतकर्ता लड़कों का आरोप है कि गुर्जर बंधुओं ने वन विभाग की जमीन पर अतिक्रमण कर लिया है और खेती कर रहे हैं। विरोध करने वालों के साथ मारपीट करते हैं। इसी क्षेत्र में प्राचीन हनुमान मंदिर भी है। मंदिर के कारण लोगों की आवाजाही बनी रहती है। आरोप लगाया गया है कि गुर्जर बंधु मंदिर आने वाले लोगों के साथ मारपीट कर रहे हैं ताकि लोग मंदिर आना बंद कर दें और उनके अतिक्रमण की जानकारी किसी को ना हो। 

शिकायतकर्ता दोनों युवकों ने आरोप लगाया है कि गुर्जर बंधुओं ने गांव के हैंडपंप जहर डाल दिया था। जब वह दोनों मंदिर से दर्शन करके लौट रहे थे तो उनके साथ मारपीट की और मुंह काला कर दिया। हालांकि पुलिस ने हैंडपंप में जहर डालने कि आरोप को लेकर कोई धारा नहीं लगाई। वन विभाग की जमीन पर अतिक्रमण है या नहीं, वन मंडल अधिकारी द्वारा इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई। संभव है वन विभाग के अधिकारियों और आरोपियों द्वारा साझेदारी में अतिक्रमण किया गया हो।

पुलिस ने किया इन धाराओ में मामला दर्ज

पुलिस ने जसवंत गुर्जर पुत्र भूरेसिंह, कल्लीराम गुर्जर पुत्र औतारसिंह, रामरथ गुर्जर पुत्र भूरेसिंह और बृजमोहन गुर्जर पुत्र रामरस गुर्जर निवासी राजौर (महुआखेड़ा) के खिलाफ भादंसं की धारा 294, 232, 506, 34 और एससी-एसटी एक्ट की धारा 3 (2) (व्हीए), 3(1)(ई), 3(1) (द), 3(1) (घ) केस दर्ज कर लिया है।