जिले में फैल रहा है जानलेवा डेंगू, 4 संक्रमित मिले: 400 घरों में मिला डेंगू का लार्वा- Shivpuri News

शिवपुरी। हड्डी तोड़ पसार के नाम से अधिक जाना जाने वाला डेंगू शिवपुरी में अपने पैर पसारते जा रहा है। मादा एडिज इजिप्टी मच्छरों के काटने से फैले डेंगू के अभी तक शिवपुरी मेें 4 संक्रमित मरीज मिले हैं तथा 400 से अधिक घरों में डेंगू का लार्वा मिला है। 

स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि उसने घरों में मौजूद डेंगू के लार्वे को नष्ट कर दिया है। लेेकिन नगर पालिका की निष्क्रियता से गली, मोहल्लों और कॉलोनियों में जमा पानी से इस बीमारी का फैलाव हो रहा है। मलेरिया अधिकारी लालजू शाक्य ने अपील की है कि घरों और कूलरों में भी पानी का जमाव न होने दें।

मलेरिया और स्वास्थ्य विभाग ने जिन इलाकों में डेंगू का लार्वा पाया है, उन्हें रेड जोन घोषित कर दिया है। इनमें पुलिस कंट्रोल रूम, हीरो होंडा एजेंसी, पीएस होटल, विवेकानंद रोड, पुराना टोल टैक्स, कृष्णा कॉलोनी, रेंज आफिस, भारतीय विद्यालय, ग्वालियर बाइपास चौराहा आदि शामिल हैं।

सर्वे टीम की कमी के कारण अभी भी पूरे शहर में सेम्पल कलेक्शन का काम नहीं हो पाया है। अगर पूरे शहर का सर्वे किया जाए तो यह संख्या और भी बढ़ सकती है। आईटीबीपी कैंपस में भी डेंगू के दो पॉजिटिव मरीज मिले हैं और एक संदिग्ध मरीज को ग्वालियर रैफर किया गया है।

ग्रामीण इलाकों में भी बढ़ रहा है डेंगू का खतरा

शिवपुरी शहर के अलावा जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में भी डेंगू का खतरा बढ़ता हुआ दिख रहा है। बदरवास और खतोरा इलाके में डेंगू के लक्षणों वाले मरीज देखे जा रहे हैं। खतोरा में एक बच्चे के प्लेटलेट्स कम हो गए हैं और जांच में डेंगू के लक्षण पाए जाने पर उसे ग्वालियर रैफर किया गया है।

अधिकतर दिन में ही काटता है डेंगू का मच्छर

डेंगू एक तरह का वायरल बुखार है और एडीज इजिप्टी मादा मच्छर के काटने से फैलती है। डॉक्टरों के अनुसार डेंगू का मच्छर ज्यादातर दिन में ही काटता है। चार तरह के डेंगू बुखार में डी-2 स्ट्रेन को अधिक खतरनाक माना जाता है। इस स्ट्रेन से प्रभावित मरीज बहुत तेजी से बीमार होता है और कई बार यह जानलेवा भी साबित होता है। इस बुखार से पीडि़त मरीज का अचानक ब्लड प्रेशर कम हो जाता है और इससे उसकी मौत भी हो सकती है।

डेंगू में आमतौर पर फ्लू जैसे लक्षण उभरते हैं। यह लक्षण 2 से 7 दिन तक रह सकते हैं। डेंगू मच्छर के काटने पर 4 से 10 दिन में बीमारी पूरी तरह फैल जाती है। प्रारंभ में सिर में दर्द, आंखों के पीछे दर्द, उल्टी, हड्डियों और मांसपेशियों में दर्द और चकते जैसे लक्षण होते हैं। यदि सही ढंग से इलाज न किया जाए तो सामान्य डेंगू गंभीर बन जाता है। ऐसे में तुरंत डॉक्टरी सलाह लेकर इलाज प्रारंभ करना चाहिए।