2 दिन पूर्व लगवाई थी रामचरण ने वैक्सीन बुखार आया झोलाछाप ने लगा दिए इंजेक्शन, मौत- karera News

करैरा। खबर करैरा अनुविभाग के अंतर्गत आने वाले गांव बगेदरी से आ रही है कि बगेदरी गांव में निवास करने वाले रामचरण जाटव की झोलाछाप डॉक्टर से इलाज कराने पर हो गई। बताया जा रहा है कि रामचरण ने 2 दिन पूर्व वैक्सीन लगवाई थी और उसके बाद उसे बुखार आया था। झोलाछाप डॉक्टर ने रामचरण को इंजेक्शन लगा दिए उसके बाद रामचरण की मौत हो गई

मृतक के भतीजे का कहना है कि चाचा रामचरण ने दिन पहले ही कोरोना वैक्सीन लगवाई थी। रविवार को बुखार आ गया और हाथ पैर दर्द करने लगे। गांव के झोलाछाप डॉक्टर ने चार गोलिया दी और 2 गोलिया खिलाकर 2 इंजेक्शन भी लगा दिए। इसके बाद हालत बिगडी तो कहने लगा इसे तत्कला अस्पताल ले जाओ इसके पास टाईम कम बचा है।

रामचरण उम्र 40 साल पुत्र सुमेरा जाटव निवासी ग्राम बगेदरी की करैरा अस्पताल मेें लाने से पूर्व रविवार को मौत हो गई। मृतक के भतीजे पुष्पेंद्र जाटव ने बताया कि चाचा रामचरण ने 2 दिन पूर्व कोरोना की वैक्सीन लगवाई थी। रविवार को बुखार बुखार आने के साथ हाथ पैर दर्द करने की शिकायत की। गांव में ही प्रेक्टिस करने वाले काशीराम कुशवाह के घर दोपहर 3 बजे पहुंचे तो उसने 4 गोलियां दे दी। उनसे में 2 गोलियां खिला दी और 2 इंजेक्शन लगा दिए।

पुष्पेंद्र के अनुसार अचानक चाचा रामचरण की तबियत और ज्यादा बिगडने लगी। काशीराम कुशवाह कहने लगे कि इसे जल्दी हॉस्पिटल ले जाओ और 2 मिनिट में ही चाचा की मौत हो गई। करैरा अस्पताल शाम 4 बजे आए जहां डॉक्टर ने रामचरण को मृत बताया।

वही बताया जा रहा हैं रामचरण की मौत के बाद परिजन करैरा पुलिस थाने पहुंचे और गांव के फर्जी डॉक्टर काशीराम कुशवाह पर आरोप लगाए। पुलिस ने मामला संज्ञान में ले लिया हैं। रात 8 बजे के बाद शव पीएम के भिजवा दिया हैं। मृतक को सोमवार को किया जाऐगा उसके बाद ही पता चलेगा कि रामचरण की मौत का क्या कारण है।