181 पर शिकातय की तो शिकायतकर्ता को पटवारी ने धमकाया,कहा मुआवजा रोक दिया जाऐगा- Shivpuri news

शिवपुरी। मप्र में सुशासन की स्थापना को लेकर मप्र में सीएम हेल्पलाईन का श्रीगणेश शुरू किया था। सीएम हेल्पलाईन के द्धवारा मप्र का एक आम नागरिक अपनी समस्या फोन से टोल-फ्री नम्बर 181 पर कॉल कर शिकायत के रूप में दर्ज करा सकते हैं,लेकिन शिवपुरी में सीएम हेल्पलाईन पर शिकायत दर्ज कराने पर समास्या का समाधान छोडिए पुलिस मे मामला दर्ज कराने के साथ साथ मुआवजा रोक लेने की धमकी तक मिल रही हैं।

ताजा मामला पोहरी जनपद के ग्राम पंचायत बैदानी में आने वाले गावं खेडा का हैं। ग्राम खेडा निवासी शहजाद जाटव ने सीएम हेल्पलाइन में गांव खेडा मे बने 3 लाख के मैदान के अतिक्रमण और गांव की लगभग 50 बीघा से अधिक चरनौई भूमि पर अतिक्रमण कर खेती करने को लेकर लगाई थी। शिकायतकर्ता ने अपनी शिकायत में कहा कि ग्राम पंचायत ने 3 लाख रूपए की लागत से गांव मे एक खेल मैदान बनाया था,लेकिन यह खेल मैदान अब बच्चो के खेलने के काम नही आता इस मैदान पर गांव के दबंग लोगो ने अतिक्रमण कर लिया है और इस पर वर्तमान समय मे तिली की फसल उग रही है।

वही गांव की चरनौई भूमि जो लगभग 50 बीघा से अधिक हैं उस पर गांव के लोगो ने पत्थर और तारफैंसिग से जमीन को कवर कर लिया हैं,और इस पर खेती की जा रही हैं। इससे गांव के मवेशियो को चरने में परेशानी आती हैं।

इस शिकायत की जांच करने के लिए ऐंजेंसी राजस्व विभाग को बनाया गया। एक पटवारी को नियुक्त किया गया। शिकायत जनहित की थी,बच्चो के खेल के आशियाने को छिना गया और गोवंश के चारे पर अतिक्रमण किया गया। जनहित और धर्महित की शिकायत थी शिकायत का तत्काल निराकरण किया जाना चाहिए था,लेकिन ऐसा नही हुआ शिकातय कर्ता को उल्टा जांच अधिकारी धमकी दे रहा हैं और इस धमकी भरी शिकायत का आडियो भी वायरल हो रहा हैं।

आडियो में जांच इस मामले के जांच अधिकारी बने पटवारी ने शिकायत कर्ता को फोन लगाया और कहा कि ऐसे समय में तुम फालतु की शिकायत करते हो,तुम्हारी शिकायत ने लिखा पडी का काम बडा दिया हैं। तुम्है अपना मुआवजा लेना है तो यह शिकातय वापस कर लो,पटवारी का नाम शिकायतकर्ता का पता नही हैं,जब पटवारी 7000163447 को कॉल किया तो उन्होन रिसीव नही किया। शिकायत कर्ता शहजाद जाटव का कहना हैं कि मेरी 5 बीघा फसल का नुकसान हुआ हैं मुझे अभी मुआवजा नही मिला हैं।

इसी प्रकार बैराड की नगर पंचायत का मामला भी प्रकाश में आया था नगर परिषद में रहने वाले एक नागरिक ने कचरे की ढेर की शिकायत कर दी तो नगर पंचायत के सीएमओ ने शिकायतकर्ता को पुलिस में शिकातय करने तक ही धमकी दे डाली। कुल मिलाकर सीएम हेल्पलाईन पर शिकायतो को निबटारा नही हो रहा है बल्कि धमकी मिल रही हैं।

कलेक्टर शिवपुरी अपनी टीएल की बैठक में बार बार अधिकारियो ओर कर्मचारियो को निर्देश दे रहे है कि सीएम हेल्पलाईन की शिकायत का निवारण समय सीमा मे हो,लेकिन ऐसा नही हो रहा हैं शिकायतो के निराकरण के लिए अब शिकायत अधिकारी शिकातय बंद कराने के लिए धमकी दे रह हैं। इसे सुशासन नही कह सकते हैं।

इनका कहना हैं
आपने मुझे जो आडियो भेज दी हैं में इसे सुनता हूं,अगर पटवारी शिकायत कर्ता को धमका रहा हैं जांच कराकर कार्यवाही करेंगें
अक्षय कुमार सिंह कलेक्टर शिवपुरी