पुलिस को गुमराह करने रची कहानी, पति ने अवैध संबंधों चलते की थी सपना की हत्या, प्रेमी को फंसाना चाह रहा था - kolaras News

कोलारस। जिले के कोलारस थाना क्षेत्र के ग्राम पडौरा सडक में बीते 23 अगस्त को घर में मिली सपना की लाश की गुत्थी सुलझ गई है। इस मामले में पुलिस ने अब जांच के बाद पति के खिलाफ ही हत्या का मामला दर्ज किया है। आरोपी पति पुलिस को गुमराह करने के लिए कहानी बनाता रहा। जो पुलिस को गले नहीं उतर रही थी। इस मामले में पुलिस ने जांच के बाद अब पति के खिलाफ ही हत्या का मामला दर्ज कर विवेचना मे लिया है।

विदित हो कि 23 अगस्त को सपना उम्र 22 वर्ष पत्नि रामू आदिवासी निवासी पडौरा अपने पति के साथ पडौरा अपने मायके में लगभग 15 दिन पूर्व ही रहने आ गई थी। सपना के दो बच्चे भी है और वह अपने बच्चें के साथ मायके में सोई हुई थी उसकी ससुराल मझेरा थी। सोमवार की सुबह सपना अपनी झोपडी में मृत अवस्था मे मिली।

इस घटना की सूचना पर कोलारस पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू की,सपना के गले पर निशान हैं इसके अतिरिक्त शरीर पर कही चोटे नही हैं,प्रथ्म दृष्टया ऐसा लग रहा है कि सपना की मौत गला दबाकर की गई है।

पति ने बताई यह कहानी
इस मामले में आरोपी पति रामू ने पुलिस को गुमराह करने के लिए कहानी बताई कि रविवार की रात मेरे घर मेरी पत्नि मिलने वाले संजय आदिवासी और उसका एक साथी आया था। संजय आदिवासी शिवपुरी करौंदी कालोनी का रहने वाला हैं। संजय ने शराब पी रखी थी और वह मुझसे बोला की मुझें सपना से कोई बात करनी इतना कहकर मृतिका के पति रामू को झोपडी के बाहर भेज दिया।

रामू आदिवासी ने पुलिस को बताया कि बाहर बैठे बैठे उसकी नींद लग गई और वह सो गया। सुबह नींद खुली और घर के अंदर जाकर देखा तो सपना म्रत अवस्था में पडी हुई थी और संजय व उसके साथ आया युवक लापता था। पडोसियों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। इस मामले में पुलिस ने पीएम रिपोर्ट के बाद परिजनों के बयानों के आधार पर आरोपी पति रामू के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया।

चरित्र पर था संदेह
मृतिका के परिजनों ने बताया है कि आरोपी रामू को अपनी पत्नि के चरित्र पर संदेह था। उसे लगातार यह डर था कि उसकी पत्नि उसकी पीठ के पीछे अपने आशिकों से मिलती है। उसे यह भी शक था कि आने बाले समय में वह उसे धौंखा देकर अपने प्रेमियों के साथ चली जाएगी। जिसके चलते आरोपी ने यह कहानी गढते हुए पत्नि की गला दबाकर हत्या कर दी। इस मामले में मृतिका के नवविवाहिता होने के चलते एसडीओपी अमरनाथ वर्मा ने जांच की और जांच के बाद पति के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया।