चौरासी क्षेत्रीय गहोई वैश्य महासभा महिला के देश की आजादी के पर्व अमृत महोत्सव के रूप में मनाया

शिवपुरी। आजादी के इस महापर्व पर पूरा देश इसे अमृत महोत्सव के रूप में मना रहा है। इसी क्रम मे गहोई वैश्य महिला मण्डल ने  स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर सभी ने मिलकर भारत को अखंड एवं संगठित बनाने का संकल्प लेकर और राष्ट्र को परम वैभव पर पहुँचाने के लिए अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने के उद्देश्य से चौरासी क्षैत्र गहोई वैश्य महिला सभा ने महोत्सव का आयोजन किया।

उक्त कार्यक्रम सभा की अध्यक्ष श्रीमती ज्योति अनिल डेंगरे के नेतृत्व मे महिला मण्डल कार्यकारिणी की उपस्थिति मे कोविड 19 गाईड लाईन का अनुसरण करते हुए आजादी का पर्व, वंदेमातरम, भारत माता के उदघोष के बीच उत्साह और उमंग के साथ स्थानीय श्री खेड़ापति हनुमानजी महाराज मंदिर और वीर सावरकर उद्यान मे विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर मनाया।

अमृत महोत्सव पर्व पर आजादी का जश्न श्रीखेड़ापति सरकार के दरबार में भक्ति भाव से भजन, कीर्तनो को गाकर, श्री हनुमानजी महाराज की आरती कर सर्व समाज के स्वास्थ्य, सुख की कामना की। महिला मण्डल ने वीरसावरकर उद्यान मे हरीचूडिय़ा, हरे परिधानों मे सज संवरकर सावनी गीतों को मधुर गीतों के साथ झूले से झूलकर, मासिक मीटिंग आयोजित कर राष्ट्रगान के साथ प्रसाद वितरण कर कार्यक्रम का समापन किया।

कार्यक्रम मे शामिल रहने बाली महिलाओं मे चौरासी क्षैत्र महिला सभा अध्यक्ष श्रीमती ज्योति अनिल डेगरे एवं सचिव तरूणा नीखरा, रेखा कंदेले, सुनीता कनकने, शोभा चऊदा, रजनी बिलैया, रामदेवी बडकुल, सुमन बरसैया, रेणु बरया, रेखा मोर, आराधना बिलैया, मंगला सेठ, प्रीति पहारिया, मंजू सोनी, अंजू चौधरी सहित कार्यकारिणी उपस्थित रही।