बाढ में क्षतिग्रस्त हुई सिंचाई परियोजनाओ के पुननिर्माण के लिए सीएम से मिले मंत्री सिलावट: मांगेे 300 करोड - Shivpuri News

शिवपुरी। जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने आज मंगलवार को भोपाल में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान से भेंट कर प्रदेश के ग्वालियर-चंबल अंचल में अतिवृष्टि के कारण क्षतिग्रस्त हुई सिंचाई संरचनाओं के संबंध में चर्चा की।

उन्होंने मुख्यमंत्री श्री चौहान को बताया कि ग्वालियर-चंबल अंचल में मुख्यत: श्योपुर, शिवपुरी, ग्वालियर, भिंड, मुरैना, अशोकनगर, गुना, दतिया एवं अन्य जिलों की लगभग 660 लघु सिंचाई योजनाएं व 38 मध्यम एवं वृहद परियोजनाओं के बांध एवं नहर प्रणालियों में अत्यधिक क्षति हुई है।

अतिवृष्टि से हुई क्षति के कारण लगभग 8 लाख हेक्टर क्षेत्र में रबी की सिंचाई प्रभावित होगी। उन्होंने बताया कि कृषि वर्ष के अनुसार कृषकों को रबी की फसल हेतु सिंचाई सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए 15 अक्टूबर 2021 के पूर्व क्षतिग्रस्त नहरों एवं अन्य जल संरचनाओं की मरम्मत का कार्य पूर्ण किया जाना अति आवश्यक है।

मंत्री श्री सिलावट ने बताया कि उनके द्वारा सम्पूर्ण अंचल में प्रत्यक्षत: भ्रमण कर स्थिति का अवलोकन किया गया है। प्रारंभिक सर्वेक्षण के आधार पर अतिवृष्टि से क्षतिग्रस्त बांधों, नहरों एवं अन्य जल संरचनाओं की मरम्मत, पुनर्निर्माण एवं पुनर्स्थापन हेतु 816 करोड़ रूपये का आंकलन किया गया है।

मंत्री श्री सिलावट ने प्रभावित क्षेत्रों के किसानों को रबी की फसल हेतु समयावधि अंतर्गत पर्याप्त सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने हेतु मुख्यमंत्री श्री चौहान से प्राक्कलन अनुसार धन राशि स्वीकृत करने तथा प्राथमिक आधार पर लगभग 300 करोड़ रूपये की राशि त्वरित रूप से स्वीकृत करने का अनुरोध किया।