गोलाकोट ती​र्थ स्थल पर हादसा, दीवाल ढही, 1 की मौत, दो गंभीर - khaniyadhana News

खनियांधाना। खबर जिले के खनियाधाना क्षेत्र में विश्व प्रसिद्ध गोलाकोट जैन मंदिर से आ रही है। जहां चल रहे निर्माण कार्य के दौराना गंभीर हादसा घटित हुआ। जहां निर्माणाधीन एक टंकी भरभराकर गिर गिई। जिसमें इस मलबे के नीचे तीन मजदूर दब गए। इसमें एक की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि दो मजदूरों को उपाचार के लिए खनियांधाना उपस्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया। जहां दोनों की गंभीर स्थिति को देखते हुए उन्हें जिला चिकित्सालय रैफर कर दिया।

जानकारी के अनुसार गोलागोट मंदिर परिसर में निर्माण कार्य चल रहा है। जिसके चलते इस मंदिर परिसर में एक टंकी का निर्माण हो रहा है आज बारिश होने के बाद कच्ची दीवाल भरभराकर गिर गई। जिससे इसमें काम कर रहे मजदूर बलराम वेरवा की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। जबकि इस हादसे में छोटू पुत्र बेजू जाटव निवासी गूडर और विशाल पुत्र मोहर सिंह परिहार गंभीर रूप से घायल हो गए।

यहां बता दे कि खनियाधाना अंतर्गत यह एक जैन धर्म का एक प्रमुख तीर्थ स्थल है जहाँ पर जहां पर साक्षात ईश्वर निवास करते हैं यहां चारो तरफ से विंध्याचल पर्वतों के बीच म 24 वें तीर्थकर भगवान श्री महावीर स्वामी से पूर्व के आदिनाथ से पाश्र्वनाथ तक की मूर्ती या मुख्य रूप से आकर्षक का केंद्र अपने आप में संजोए हुए है।

अंचल के जैन समाज के लिए यह मंदिर एक ऐतिहासिक मंदिर होता है यही यही प्रमुख कारण है कि इसने मध्य प्रदेश में अपनी एक अलग छवि बनाई है यहां लाखों श्रद्धालु भगवान महावीर और पाश्र्वनाथ नाथ के दर्शन को आते है। पुलिस द्वारा मौके पर पहुंचकर शवों को बरामद कर जांच में लग गई है।अंचल के जैन समाज के लिए यह मंदिर एक ऐतिहासिक मंदिर होता है यही यही प्रमुख कारण है कि इसने मध्य प्रदेश में अपनी एक अलग छवि बनाई है यहां लाखों श्रद्धालु भगवान महावीर और पाश्र्वनाथ नाथ के दर्शन को आते है। पुलिस द्वारा मौके पर पहुंचकर शवों को बरामद कर जांच में लग गई है।