थाली,शंख और घंटी बजाकर अध्यापकों और शिक्षकों ने किया विरोध प्रदर्शन,डीए और इंक्रीमेंट बंद से है नाराज - Shivpuri News

शिवपुरी। आजाद अध्यापक संघ की प्रदेशाध्यक्ष शिल्पी शिवान के आह्नान पर अध्यापकों व शिक्षकों ने थाली, शंख व घंटी बजाकर विरोध करते हुए प्रदेश के समस्त कर्मचारियों को डीए व इंक्रीमेंट बहाल करने की मांग सरकार से की है। आंदोलन के द्वितीय चरण में गत दिवस यह बिरोध प्रदर्शन अध्यापकों व शिक्षकों द्वारा अपने अपने घरों पर थाली, शंख व घंटी बजाकर किया गया।

आजाद अध्यापक संघ के जिलाध्यक्ष सुनील वर्मा एवं महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष रिजवाना खान ने वताया कि प्रदेश के कर्मचारियों का वर्ष 2020 से डीए व इंक्रीमेंट बंद है जब्कि कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में प्रदेश के समस्त विभागों के कर्मचारी अपनी जान की परवाह किये बिना कंधे से कंधा मिलाकर साथ दे रहे हैं।

ऐसे में उनके डीए व इंक्रीमेंट बंद किया जाना उचित नही है। मांगें पूरी होने तक अध्यापकों व शिक्षकों का यह आंदोलन अनवरत जारी रहेगा। आंदोलन के लिए संगठन ने रविवार का दिन चुना है। आंदोलन के पहले चरण में कोरोना काल में दिवंगत हुए साथियों की स्मृति में कैंडल जलाकर विनम्र श्रद्धांजलि देते हुए उनके परिवार जनों को अनुकंपा व स्वत्वों का भुगतान शीघ्र किये जाने की मांग की गई थी।

द्वितीय चरण में रविवार को थाली,शंख व घंटी बजाकर बिरोध प्रदर्शन किया गया। प्रांतीय शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष राजकुमार सरैया व कार्यवाहक जिलाध्यक्ष विपिन पचौरी, शासकीय अध्यापक संघ के जिलाध्यक्ष पवन अवस्थी, आजाद के जिला संयोजक केपी जैन, केदार वर्मा, कर्मचारी शिक्षा प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष महावीर मुदगल, सतीश वर्मा व संभागीय अध्यक्ष अरविन्द सरैया, शासकीय सेवक सेतू भारत के जिलाध्यक्ष अमरदीप श्रीवास्तव ने वर्ष 2006 से नियुक्त अध्यापकों व नवीन शिक्षक संवर्ग के शिक्षकों को क्रमोन्नति देने, शेष शिक्षकों के एम्प्लाई कोड जारी करने, शिवपुरी जिले में समस्त नवीन शिक्षक संवर्ग को सातवे वेतनमान की द्वितीय किस्त शीघ्र भुगतान किये जाने एवं समस्त पात्र कर्मचारियों के प्रमोशन शीघ्र किये जाने की मांग सरकार से की है।