शिव की पुरी के शमशान में दिन भर दहकती रही चिताएं: आज 17 लोगों की अकाल मृत्यु - Shivpuri News

शिवपुरी। शिव की पुरी शिवपुरी में पिछले 24 घटें में कोरोना से 16 लोग अपनी जिंदगी से जंग हार गए हैं,इसमे से 2 मौते जिले से बहार हुई हैं जबकि 14 मौते जिले मे हुई है। शहर के पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष स्वर्गीय लक्ष्मी नारायण शिवहरे की पुत्र वधू पूर्व पार्षद वंदना शिवहरे पत्नी राजेंद्र शिवहरे ने कोरोना संक्रमण के चलते देश के प्रख्यात लीलावती अस्पताल मुंबई में आज इलाज के दौरान अंतिम सांस ली।

उन्हें 2 दिन पूर्व विशेष विमान से बिरला हॉस्पिटल ग्वालियर से मुंबई ले जाया गया। जहां उसे बचाया नहीं जा सका। इसके पहले 8 दिनों तक शिवपुरी मेडिकल कॉलेज में उन्होंने अपना इलाज कराया था।

जिला अस्पताल में भर्ती ममता गुप्ता उम्र 40 वर्ष पत्नी संजय गुप्ता निवासी लुकवासा, सतनवाड़ा के लक्ष्मण सिंह धाकड़ उम्र 50 वर्ष, कोलारस निवासी महिला बलविंदर कौर पत्नी कुलविंदर सिंह उम्र 50 साल, कुसुम कोली पत्नी हेमलाल कोली निवासी भौती उम्र 55 वर्ष, बदरवास निवासी राकेश शर्मा पुत्र हरिओम शर्मा उम्र 60 वर्ष, हरदीप सिंह पुत्र हरदेव सिंह उम्र 38 वर्ष निवासी शिवपुरी, नाथूराम पुत्र जगन्नाथ प्रसाद ओझा उम्र 65 वर्ष निवासी ठुनि थाना पिछोर, मीरा भदोरिया पत्नी नंदकिशोर भदोरिया उम्र 48 वर्ष निवासी पिछोर की मौत हो गई। कोलारस निवासी सरोज भार्गव पत्नि आनंद भार्गव उम्र 58 वर्ष, प्राथमिक विद्यालय पुरैनी में कार्यरत शिक्षक अल्वेर तिर्की भी कोरोना से जंग नहीं जीत पाए और उनका भी निधन हो गया। 

हैंडबॉल के खिलाड़ी आशु पुत्र अशोक चौधरी उम्र 26 साल का निधन हो गया। आशु के पिता खेल शिक्षक हैं। आशु के बाद पत्नी और 6 महीने की बेटी शेष रह गई। 

शिवपुरी निवासी हरगोविंद कुशवाहा भी जिंदगी की जंग हार गए। इसके अलावा पोहरी के ग्राम दुल्हारा की 26 वर्षीय शकुन आदिवासी पत्नि सुआलाल आदिवासी, विवेकानंद कालोनी ललिता सेन पत्नि हुकुम चंद सेन उम्र 55 वर्ष, अतर सिंह पुत्र देबू राम 50 वर्ष मटवारी की भी संक्रमण से मौत हो गई। शिवपुरी निवासी अनिल शर्मा ने भोपाल में कोरोना से दम तोड़ दिया।

बदरवास के पटवारी और आरक्षक की पत्नी की कोरोना से मौत

कोरोना काल में योद्धा के रूप में सेवा दे रहे सरकारी कर्मचारी लगातार संक्रमित हो रहे हैं और उनके परिजन भी संक्रमण का शिकार हो रहे हैं । जिले के बदरवास थाने में पदस्थ आरक्षक सीताराम मीणा की पत्नी उर्मि 38 वर्ष ने रविवार को गुना जिले के बमोरी स्थित ग्रह ग्राम में दम तोड़ दिया।

बताया जाता है कि आरक्षक सीताराम भी संक्रमित हैं और उनका उपचार चल रहा है। इधर दूसरी दुखद खबर बदरवास के सालौन हल्के में पदस्थ पटवारी शुभम रघुवंशी की पत्नी जूली 26 वर्ष की कोरोना से मौत के रूप में सामने आई है।

जूली खुद भी अशोकनगर जिले के शाढोरा क्षेत्र में पटवारी थीं। बताया जाता है कि करीब 10 दिन पहले जूली का भोपाल में प्रसव हुआ था और इस दौरान वे संक्रमित हो गई। इसके बाद भोपाल के ही चिरायु अस्पताल में उनका उपचार चल रहा था जहां रविवार को उन्होंने दम तोड़ दिया।