स्कूलो की मान्यता में चल रहा है पैसो का खेल, रिश्वत खाता बाबू कैमरे में कैद - Shivpuri News

शिवपुरी। निजी स्कूलो की मान्यताओ के पीछे रिश्वत का खेल चल रहा है। बिना रिश्वत लिए मान्यता नही का मंत्र अपनाते हुए जिला शिक्षा विभाग अपना काम कर रहा है। रिश्वत खाने के बाद भी मान्यता नही मिल रही हैं ऐसा ही मामला सामने आया हैं। बाबू रिश्वत के पैसे लेता हुआ कैमरे में कैद हुआ है और उसका विडियो वायरल हुआ है।

जानकारी के मुताबिक बम्हरा में रहने वाले कोचिंग संचालक पुष्पेंद्र लोधी अपने स्कूल वीरांगना रानी अवंती बाई जो ढला में हैं उसमें नए सत्र की मान्यता के लिए शिक्षा विभाग के बाबू अफजल खान को आवेदन दिया था। फोन पर बातचीत के दौरान पुष्पेंद्र लोधी ने बताया कि उसने अपने दोस्त हनुमत लोधी के जरिए यह बातचीत की थी।

जिसमें हनुमत को उसने बाबू अफजल खान को रिश्वत देने के लिए 10 हजार दिए। हनुमत ने यह रुपए बाबू को दे दिए। जो वीडियो वायरल हुआ है उसमें बाबू पैसे जेब में रखते नजर आ रहा है। पुष्पेंद्र लोधी की माने तो स्कूल मान्यता के लिए यह रकम दी गई थी जिसमें बाबू ने कहा था कि उसे मान्यता की पीडीएफ जारी हुई है उसमें उसके स्कूल का नाम है।

इसके बाद यह पैसे लिए गए हैं, लेकिन पुष्पेंद्र को मान्यता संबंधी स्कूल का डाइस कोड नहीं मिला तो वह परेशान हुआ और उसने फिर से फोन पर बाबू से बात की। जिसमें उसने कहा कि काम हो जाएगा। पर लंबे इंतजार के बाद भी जब काम नहीं हुआ तो पुष्पेंद्र और उसके दोस्त हनुमत लोधी ने यह वीडियो वायरल कर दिया।

इधर वीडियो वायरल होने के चलते जिला शिक्षा अधिकारी दीपक पांडे ने मान्यता देने वाले बाबू अफजल खान को नोटिस जारी कर 2 दिन में जवाब मांगा है। वहीं बाबू अफजल खान का कहना है कि यह उसे फंसाने की साजिश है। और इस तरह के झूठे केस से उसे लगता है कि वह आत्महत्या कर ले। इन झूठे आरोपों से वह मानसिक रूप से परेशान हैं।

हालांकि डीईओ ने उससे जवाब मांगा है और वह 1 दिन में उन्हें जवाब दे भी देगा। हालांकि इस वायरल वीडियो की पुष्टि शिवपुरी समाचार डॉट कॉम नही करता हैं।