शिवपुरी से सज धज कर गए थे 2 दूल्हे अपनी दुल्हन लेने, लेकिन बिना दुल्हनों के लौटी बारात

शिवपुरी। शिवपुरी के लिए खबर शिवपुरी के पडौसी जिला दतिया से आ रही हैं कि दतिया जिले के लिए शिवपुरी से रवाना हुई 2 सगे भाईयो की बारात बिना दुल्हनो के लौट आई है। बताया जा रहा हैं कि वर पक्ष ने दहेज में 4 लाख रूपए की मांग की थी। इसके कारण वर और वधु पक्ष के लोगो में लमकर लात घूसे और पत्थर फिके। इसमें कुछ लोगो के घायल होने की भी खबर आ रही हैं और अंत में शिवपुरी से सजधज कर गए दूल्है बिना दुल्हनो के लौट आए है।

दतिया जिले के सेंवढ़ा चुंगी निवासी मुकेश मुखिया के यहां दो बेटियों की शिवपुरी से बारात गई थी। इस बारात में शिवपुरी के चेतन आदिवासी के बेटे राजाराम और केपी सिंह दूल्हे थे। बारातियों की समारोह स्थल से कुछ ही दूरी पर एक भवन में रुकने की व्यवस्था की गई। यहां चाय नाश्ता चल रहा था और दोनों दूल्हे घोड़ी पर बैठने के लिए सज रहे थे।

शिवपुरी में जिन चेतन आदिवासी के यहां से दोनों बेटों की बारात आई थी, उनके यहां कन्या पक्ष की बड़ी बेटी सलमा पहले से ब्याही थी। बारात आने की बात पता चलते ही सलमा अपने पति और दूल्हा बने देवरों से मिलने पहुंच गई। सलमा से उसके पति बीसल ने कहा कि अपने पिता से कह दो कि फलदान में चार लाख रुपए चाहिए। तभी तेरी बहनों के साथ मेरे भाईयों की शादी होगी।

सलमा ने कहा कि जो कुछ था, वो तो पहले ही फलदान में दे दिया। अब मेरे पिता कहां से देंगे। इसी बात पर सलमा की उसके ससुराल पक्ष के लोगों ने मारपीट की। रोती हुई सलमा घर आई और माता पिता को बताया। घर के बड़े-बूढों ने मामला शांत करा दिया।

इसके बाद जब बारात टीका के लिए पहुंची तो डीजे न बजता देख कन्या पक्ष के लाेग भी आक्रोशित हो गए और कहासुनी होने लगी। दरवाजे पर मंडप प्रवेश के दौरान दूल्हों ने रस्म भी नहीं निभाई और सीधे अंदर घुस गए। दूल्हे राजाराम और केपी सिंह का कहना था कि वे बिना भांवर और बिना तिलक कराए सीधे वधुओं को लेकर जाएंगे।

इस पर कन्या पक्ष के लोग सहमत नहीं थे। देखते ही देखते पत्थरबाजी शुरू हो गई। इससे कन्या पक्ष की तरफ से मुकेश मुखिया, मुकेश की पत्नी सुनारी, पुत्री रूपवती को चोटें आईं। इनमें रूपवती के गाल फटने से टांके आए हैं। देर रात दोनों पक्ष सिविल लाइन थाना में शिकायत लेकर पहुंचे। यहां दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर रिपोर्ट दर्ज कराई फिर वापस समारोह स्थल पर पहुंच गए। मंगलवार को पंचायत होना थी लेकिन उससे पहले ही बगैर दुल्हन को लिए दोनों दूल्हे और बारात चली गई।

दोनों पक्षों की रिपोर्ट दर्ज है
सेंवढ़ा चुंगी पर विवाद को लेकर दोनों पक्षों की तरफ से रिपोर्ट दर्ज है। मामले की जांच कर रहे हैं। अभी राउंड पर हूं इसलिए ज्यादा नहीं बता पाउंगा।
राकेश साहू, टीआई सिविल लाइन थाना