आपकी जीभ खोद सकती हैं आपकी स्वास्थ्य की कब्र, बाजार में ना खाए चाट पकौडी समोसा, पास में आ सकता हैं कोरोना - Shivpuri News

शिवपुरी। जिले में लगातार कोरोना अपनी पकड बनाए हुए है। ऐसे में हर दिन 35 से 40 मरीज पाजिटिव आ रहे हैं। आप जानकर हैरान हो जाएंगे कि आप जिन समोसे और कचौरी सहित पानी पुरी को खा रहे हैं या फिर जो मिठाई खा रहे हैं तो क्या उनको बनाने वालों की कोरोना जांच हुई है। यदि नहीं तो आप पर खतरा मंडरा रहा है।

शहर के कई नामी गिरानी हलवाई से लेकर मिठाई वालों के यहां जो कर्मचारी काम कर रहे हैं वह क्या कोरोना नेगेटिव है पहले इसकी तसल्ली उन दुकानदारों को ही करनी होगी जो इनका कारोबार कर रहे हैं।

चंदू हलवाई का कारीगर पॉजिटिव बनाते मिला समोसा

शहर के नीलगर चौराहे पर चंदू हलवाई का कारीगर कोरोना पाजिटिव निकला और उसके परिवार के सदस्य भी कोरोना पाजिटिव निकले लेकिन वह आइसोलेशन वार्ड से भाग गया और चंदू हलवाई के यहां समोसा बना रहा था ऐसे में आप अंदाजा लगा सकते है कि जिन लोगों ने समोसे और कचौरी का सेवन किया होगा उनका क्या हाल होगा।

बिना जांच के बाजार में बिक रहे समोसे और पानीपुरी

शहर में 1 हजार से अधिक समोसे, कचौरी, मोमोज, पानीपुरी, पोहा सहित मिठाई की दुकानों का संचालन किया जा रहा है। इतना ही नहीं डोसे और पावभाजी के भी ठेले लग रहे हैं क्या इनकी कोरोना जांच हो चुकी है या फिर यह लोग लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड कर रहे हैं प्रशासन को पहले इनकी जांच करनी होगी तभी इन्हें ठेले या दुकान की अनुमति दें।

चाय की दुकानों पर भी जांच नहीं

शहर में कई आधुनिक चाय की दुकानें खुल गई है जिनमें कई तरह की चाय बेची जा रही है क्या इन दुकानों पर काम करने वाले कर्मचारियों का कोरोना टेस्ट कराया गया है या फिर यह बिना किसी जांच के ही चाय का कारोबार संचालित कर रहे हैं। ऐसे में इनकी जांच होना भी अनिवार्य है।