किलर कोरोना के साथ हाथ पैर तोडू वायरल से भी ग्रसित हैं जिलाः घर-घर लोग बीमार - Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी जिले में कोरोना का कहर जारी हैं,प्रतिदिन पाजीटिव मरीजो की संख्या में बढोतरी हो रही हैं,और प्रतिदिन सरकारी अस्पताल का आईशोलेशन वार्ड लाशे उगल रहा हैं। कोरोना की ऐसी जानलेवा खबरो से जनमानस का हद्धय कांप रहा हैं और उसे ज्यादा डराने के लिए हाथ पैर तोडू वायरल ने भी जिले मे अपने पैर पसार लिए हैं।

बताया जा रहा हैं कि शहर के आधे घरो में घर का एक न एक सदस्य इस समय वायरल से लड रहा हैं,इस वायरस के लक्ष्ण कोरोना के लक्ष्ण जैसे ही हैं,हाथ पैरो में दर्द,जुकाम,खांसी,ओर गले में खरास जैसे लक्षण आ रहे हैं आम लोग कोविड 19 की जांच कराने से पहले या तो मेडिकल से अपने स्तर पर दवा ल रहे हैं या किसी प्राईवेट चिकित्स को दिखा रहे है।

बताया जा रहा हैं कि बुखार के इन लक्षणो में टाईफाईड भी निकल रहा हैं। वायरल 4 से 5 दिन का समय ठीक होने में ले रहा हैं। अगर 4 और 5 दिन बाद भी मरीज सही नही हो रहा है तब वह कोविड की जांच करा रहा हैं यह भी सत्य हैं कि हर बुखार कोविड नही हैं। वायरल अगर घर में एक को आया तो फिर यह पूरे घर को अपनी चपेट में ले रहा है। इस सयम वायरल भी तैजी से फैल रहा हैं कि इसलिए ही प्रशासन ने वायरल वार्ड अलग से बनाने का निर्णय लिया था।

गांव गांव में भी लोग बीमार
गांवों की बात करें तो वायरल ने लोगों को पूरी तरह से अपनी चपेट में ले लिया है और लोग वायरल बुखार से पीडित हैं। लोगों का कहना है कि वायरल ने उनके हाथ पैर तोडकर रख दिए हैं।

पैथलोजियों पर भीड
शहर सहित अंचल में संचालित पैथलोजियों पर इन दिनों भीड देखी जा रही है लोग जांच के लिए लाइन में खडे होकर अपनी बारी का इंतजार करते देखे जा सकते हैं।

झोलाछापों की चांदी
गांवों में डॅाक्टर नहीं है ऐसे में गांव में झोलाछाप डाक्टरों की चांदी कट रही है वह अपने तरीके से बीमार मरीजों का उपचार कर उनसे हजारों रूपए ऐंठ रहे हैं। जबकि स्वास्थ्य केंद्रों पर तैनात डॉक्टर वहां मौजूद नहीं रहते हैं जिससे यह हालात बन रहे हैं।