आधी रात फूटी सिंध की पाइप लाइन रह गई शहर की 6 टंकिया प्यासी, कई क्षेत्रों में लोग प्यासे - Shivpuri News

शिवपुरी। शहर के पुराने बायपास पर कलेक्टर बंगला रोड के मोड से गुजरी पानी की लाईन गुरूवार-शुक्रवार की रात अचानक से फट गई। यह पाईप लाईन सिंध जलावर्धन योजना की मैन पाइप लाइन हैं पानी का प्रेशर इतना तेज हैं कि पानी ने जमीन में गहरा गडढा कर दिया और पानी इतना निकल रहा है कि आसपास के इलाके में रहने वाले लोगो के घरो के सामने पानी भर गया है।

पाइन लाइन को सुधारने के लिए पानी की सप्लाई को रोक दिया गया हैं इस कारण शहर की 6 टंकिया नही भर सकी और वह प्यासी रह गई जिससे लोगो के घरो में पानी नही पहुंचा।

गर्मी के मौसम आते ही शहर मे पानी की मांग बढ जाती हैं। इस कारण सिंध जलावर्धन योजना पर भी पानी की सप्लाई के लिए दबाब बढ जाता हैं। इस कारण सिंध से अधिक पानी की आवश्यकता होने लगती हैं,योजना में जमकर भ्रष्टाचार हुआ हैं और और इस योजना में डाले गए पाइपो पर हमेशा से ही सवाल खडे होते रहते हैं जिम्मेदार शुरू से ही इस बात को नकार रहे हैं कि इस योजना में भ्रष्टाचार नही हुआ हैं लेकिन समय—समय पर यह पाइप ही टूट कर जबाब देते रहते हैं कि इस योजना में जमकर भ्रष्टचार हुआ है।

पाइपो ने भ्रष्टाचार का स्वयं जबाब दिया बीती रात बायपास रोड पर होटल पीएस के समाने से गुजरी पाइप लाइन ने। आधी रात को यह पाइप लाइन टूट गई,जिस समय यह पाईप लाइन टूटी थी उस समय सिंध की सप्लाई चल रही थी और पानी का प्रेशर अधिक था इस कारण चंद मिनिटो मे ही आसपास की मिटटी दलदल में तब्दील हो गई और मौके पर 8 बाई 8 का एक गहरा और चोडा गढडा हो गया।

फूटी पाईप लाईन से पानी निकलने के कारण कलेक्टर निवास रोड,शिव कॉलोनी सहित कई ईलाको में की सडको पर पानी भर गया। जब लोग सुबह सोकर उठे तो उन्होने अपने घरो के सामने पानी भरा पाया।

लाइन टूटने के कारण रह गई 6 टंकी प्यासी

बायपास पर पीएस होटल के सामने जो पाइप लाइन फूटी हैं,यह सिंध जलावर्धन योजना की मैन लाईन हैं जो सीधे शहर की टंकियो को भरती हैं। बताया जाता हैं कि यह पाइप लाइन जनपद आफिस के पास की टंकी,मनियर स्थित पुराने टोल नाके की टंकी,फतेहपुर और बडौदी की टंकी के लिए भी इसी पाईप लाइन के पानी से भरती हैं। आधी रात पाइप लाइन टूटने के कारण सप्लाई को रोक दिया गया जिससे इन क्षेत्रो मे पानी की सप्लाई नही हो सकी।

पानी से बने दलदल के कारण पाइप लाइन को सुधारना मुश्किल हो रहा था। पाइप लाइन के टूटने की सूचना पर ओम कंस्ट्रक्शन कंपनी कर्मचारी मौके पर पहुंचे। मिटटी के कारण दलदल इतनी बन गई कि मौके पर पहुंची हिटेची भी काम नही कर पा रही थी। किसी भी तरह वहां से मिटटी को ख्रिरोचकर साफ किया जब जाकर काम शुरू हो पाया।